इस्लामिक धर्मगुरू जाकिर नाइक के 2 टीवी चैनल बैन, लगा करोड़ों रुपये का जुर्माना

0
115
zakir naik

इस्लामिक धर्मगुरू और भारत के भगोड़े जाकिर नाइक के टीवी चैनल पीस टीवी और पीस टीवी उर्दू पर ब्रिटेन में पौने दो करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है. दरअसल, पीस टीवी को अपने प्रसारणों से ब्रिटेन में हत्या के लिए भड़काने और नफरत फैलाने का दोषी पाया गया है. पीस टीवी पर ये जुर्माना ब्रिटेन की मीडिया वॉचडॉग ऑफकॉम ने लगाया है.

बता दें कि ऑफकॉम ब्रिटेन में संचार माध्यमों पर नजर रखने वाली नियामक संस्था है. ऑफकॉम ने अपने एक बयान में कहा है कि ऑफकॉम ने पीस टीवी उर्दू पर 2 लाख पाउंड और पीस टीवी पर एक लाख पाउंड का जुर्माना लगाया है, ये जुर्माना देश के ब्रॉडकास्टिंग नियमों को तोड़ने के एवज में लगाया गया है.

जाकिर नाइक का पीस टीवी उर्दू और पीस टीवी अंतरराष्ट्रीय सैटेलाइट चैनल्स हैं, इन चैनलों पर इस्लामिक आस्था से जुड़े मजहबी कार्यक्रम ब्रिटेन में प्रसारित किए जाते हैं. ऑफकॉम ने कहा कि पीस टीवी उर्दू और पीस टीवी पर प्रसारित कार्यक्रम की सामग्री बेहद आपत्तिजनक थी और एक जगह ऐसा लग रहा था कि यह सामग्री लोगों को अपराध करने के लिए भड़का रही थी.

ऑफकॉम ने कहा, “हमने अपनी जांच में पाया कि कार्यक्रम की सामग्री गंभीर रूप से ब्रिटेन के प्रसारण नियमों का उल्लंघन कर रही थी. इस पर जुर्माना लगाने की जरूरत थी. इसके पूर्व लाइसेंसधारी क्लब टीवी और लॉर्ड प्रोडक्शन को अब 2 लाख पाउंड और एक लाख पाउंड का भुगतान करना पड़ेगा.”

ऑफकॉम की रिपोर्ट के अनुसार, जुलाई 2019 में प्रसारित कार्यक्रम किताब उत त्वाहीद में जादूगरों को दंड देने पर चर्चा हुई थी. बाद में एक मुस्लिम मौलवी आरवी सईदी की हत्या कर दी गई थी, वह कथित रूप से ऐसे ही किसी ही काम में लगा हुआ था.

ऑफकॉम ने पाया कि इस कार्यक्रम ने हत्या के लिए आरोपियों को भड़काया. इसी समय ऑफकॉम ने एक नोटिस जारी किया, जिसमें क्लब टीवी लिमिटेड को पीस टीवी उर्दू का प्रसारण बंद करने को कहा, क्योंकि ये चैनल ऐसे कार्यक्रमों का फिर से प्रसारण कर रहा था जो ब्रिटेन में हत्या को बढ़ावा दे रहे थे. ऑफकॉम ने पीस टीवी उर्दू के लाइसेंस को नवंबर 2019 में रद्द कर दिया था. अभी ब्रिटेन में पीस टीवी और पीस टीवी उर्दू को प्रसारण की अनुमति नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here