NSA अजित डोभाल और चीन के विदेश मंत्री के बीच हुई 2 घंटे बात

0
358
AJIT DOVAL

New Delhi: भारत और चीन सीमा विवाद पर अह्म खबर आ रही है. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल (Ajit Doval) और चीन के विदेश मंत्री के बीच बातचीत हुई थी. ये बातचीत दो घंटे तक चली थी जो 5 जुलाई को हुई थी. दोनों देश सीमा पर टकराव को कम करना चाहते हैं.

गलवान घाटी पर 2 किमी पिछे हटे चीनी सैनिक

दोनों देश भविष्य में शांतिपूर्ण माहौल बनाने पर सहमत हुए हैं. साथ ही भविष्य में सीमा पर शांति भंग करने या किसी भी घटना से बचने के लिए मिलकर काम करने पर भी सहमति बनी है. अजित डोभाल (Ajit Doval) व विदेश मंत्रालय ने कहा दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति जताई है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर टकराव खत्म करने की प्रक्रिया को जल्द पूरा किया जाए.

वैज्ञानिकों ने किया दावा, हवा से भी फैल सकता है कोरोना

इसके अलावा दोनों पक्षों को भारत-चीन सीमाओं पर चरणबद्ध तरीके से टकराव को कम करना चाहिए. दोनों देशो के अधिकारियों के सुर इस बात पर भी एक हुए की दोनों देशो को बॉर्डर पर टकराव को कम करना चाहिए और दोनों देशो के नेताओं की आम सहमति से कोई रास्ता निकालना होगा. बातचीत से यह भी निकल कर आया है की दोनों देश सीमा का सम्मान करें.

85 साल के हुए तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा

दोनों देशो के अधिकारियों इस बात पर राज़ी हुए है, की राजनितिक व सैन्य अधिकारियो की बातचीत होती रहे. जिसमें भारत-चीन सीमा मामलों (WMCC) पर बातचीत और तालमेल शामिल है. भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में शांति और स्थिति को सामान बनाए रखने के लिए बातचीत जारी रखेंगे. आपको बता दे कि चीन को भारत के कड़े कदमों के आगे झुकना पड़ा है, जानकारी के अनुसार चीन को सीमा से 2 किलो मीटर पीछे हटना पड़ा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here