क्यों हुआ अमेरिका में बवाल, क्या ट्रंप जाएंगे जेल?

अमेरिका के संसद भवन में गुरुवार को हुई हिंसा का जिम्मेदार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बताया जा रहा हैं।

0
175
Violence in America
अमेरिका के संसद भवन में गुरुवार को हुई हिंसा का जिम्मेदार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बताया जा रहा हैं।

Washington: अमेरिका के संसद भवन में गुरुवार को हुई हिंसा (Violence in America) का जिम्मेदार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को बताया जा रहा हैं। इसी के चलते ‘THE HILL’ की एक रिपोर्ट के अनुसार 200 से ज्यादा लोग चाहते है कि ट्रम्प को संवैधानिक नियमों के हिसाब से हटा दिया जाए। कुछ लोग ऐसे भी हैं जो चाहते हैं कि भड़काऊ भाषण के लिए ट्रम्प को सजा मिले। ऐसे में सोचने वाली बात ये है कि आखिर डोनाल्ड (Violence in America) ट्रम्प का क्या होगा? क्या ट्रम्प को जेल भेजने की तैयार है? 

संसद परिसर में ट्रंप समर्थकों ने मचाया बवाल, अब तक चार की मौत

जानकारी के अनुसार वोटिंग के चंद दिनो बाद कैपिटल हिल में इलोक्टोरल कॉलेज की प्रकिया शुरु हो गई थी। इसके बाद बाइडन (Joe Biden) के राष्ट्रपति बनने को लेकर मुहर लगनी थी। लेकिन इसी दौरान भारी संख्या में ट्रम्प (Donald Trump) समर्थकों की भीड़ ने वाशिंगटन में मार्च निकालना शुरु कर दिया। कैपिटल के बाहर पुलिस और ट्रंप समर्थकों के बीच झड़प हुई। इस दौरान समर्थकों को रोकने के दौरान अमेरिकी संसद में ही गोली चली जिससे एक महिला की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक अब तक कुल चार लोगों मौत हो चुकी हैं। वहीं वॉशिंगटन डीसी पुलिस ने कैपिटल में हिसा करने के आरोप में अब तक 52 लोगों की गिरफ्तारी की है।

खास बात ये है कि अमेरिका संसद में हुई हिंसा की निंदा अब ट्रम्प (Donald Trump) के साथी और रिपब्लिकन सासंद कर रहे हैं। ट्रंप से जुड़े कई अफसरों ने इस्तीफा देना भी शुरू कर दिया। डिप्टी एनएसए मैट पोटिंजर और व्हाइट हाउस की डिप्टी प्रेस सेक्रेटरी सारा मैथ्यू के इस्तीफा देने की खबर सामने आई हैं। वहीं फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप की पत्नी की चीफ ऑफ स्टाफ स्टेफनी ग्रिशम के भी इस्तीफा दिए जाने की खबरें है। दराअसल, 20 जनवरी तक अमेरिका में सत्ता पलट जाएगी और जो बाइडेन देश के राष्ट्रपति की कुर्सी पर होंगे।

अफगान शरणार्थियों पर पाकिस्तान की कार्रवाई, जानें वजह

अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस (Mike pence) ने ‘अमेरिकी इतिहास का काला दिन’ बताया। लेकिन, मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि पेंस नहीं चाहते कि ट्रम्प को सत्ता से हटाया जाए। इसकी वजह ये है कि अगर ऐसा हुआ तो रिपब्लिकन पार्टी बेज्जती हो जाएगी। तो वहीं चार साल बाद पेंस ही राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनें। अगर उन्होंने आज ट्रम्प के खिलाफ कुछ किया तो उन्हें पार्टी से निकाला जा सकता है। 

दुनिया से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें World News In hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here