रूस को कोरोना वैक्सीन Sputnik V के उत्पादन के लिए भारत से उम्मीद

रूस ने भारत में कोरोना की दवा Sputnik V का बड़े पैमाने पर उत्पादन करने की इच्छा जताई है। हालांकि दुनिया के कई अन्य देश इस वैक्सीन की उपयोगिता पर सवाल उठा रहे हैं।

0
276
Russia Partnership With India
रूस को कोरोना वैक्सीन Sputnik V के उत्पादन के लिए भारत से उम्मीद

New Delhi: कोरोन वायरस की वैक्सीन को मंजूरी देने वाला दुनिया का पहला देश रूस भारत के साथ (Russia Partnership With India) साझेदारी करने पर विचार कर रहा है। रूस ने भारत में कोरोना की दवा Sputnik V का बड़े पैमाने पर उत्पादन करने की इच्छा जताई है। हालांकि दुनिया के कई अन्य देश इस वैक्सीन की उपयोगिता पर सवाल उठा रहे हैं लेकिन रूस अपने इस वैक्सीन को लेकर आगे बढ़ रहा है।

रूस में कोरोना की पहली वैक्सीन बनकर तैयार, राष्ट्रपति पुतिन ने किया दावा

रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (Russian Direct Investment Fund) के सीईओ (CEO) किरिल दिमित्रिएव ( Kirill Dmitriev) ने गुरुवार को कहा कि रूस कोविड-19 (Covid-19) की वैक्सीन स्पूतनिक 5 के उत्पादन के लिए भारत के साथ साझेदारी पर विचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत (Russia Partnership With India) उन देशों में है, जिसके पास प्रोडक्शन की जबरदस्त क्षमता है। किरिल ने यह भी कहा कि रूसी वैक्सीन के उत्पादन के लिए कई देश इच्छा जता रहे हैं। इनमें लैटिन अमेरिका, एशिया और मध्य पूर्व के देश शामिल हैं।

Covaxin के पहले ट्रायल में मिली सफलता, दूसरे ट्रायल की तैयारी शुरू

हाल ही में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने घोषणा की थी कि उनके देश ने कोविड-19 का दुनिया का पहला टीका बना लिया है जो ‘काफी प्रभावी’ तरीके से काम करता है और इस बीमारी के खिलाफ लड़ सकता है। Sputnik V का विकास गामालेया महामारी रोग और सूक्ष्मजीव विज्ञान शोध संस्थान (ICAR) और रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (RDIF) मिलकर कर रहे हैं। इस टीके के तीसरे चरण का परीक्षण या बड़े पैमाने पर क्लिनिकल ट्रायल नहीं हुआ है।

बता दें कि रूस ने बिना फेज-3 ट्रायल शुरू किए ही वैक्सीन को सफल घोषित कर दिया था जिसकी वजह से उसे दुनियाभर से आलोचना झेलनी पड़ी थी। रूस ने कहा था कि कोरोना से बचाव के लिए लोगों को Sputnik V वैक्सीन की दो खुराक लेने की जरूरत होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here