हिंदू और ईसाई लड़कियों को China में बेच रहा ये देश

अमेरिका ने दावा किया है कि पाकिस्तान Pakistan V/S America हिंदू और ईसाई लड़कियों को चीन का दासी बना रहा है।

0
188
Pakistan V/S America
अमेरिका ने दावा किया है कि पाकिस्तान Pakistan V/S America हिंदू और ईसाई लड़कियों को चीन का दासी बना रहा है।

Pakistan: पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार कम होते नजर नही आ (Pakistan V/S America) रहे। इस बीच अमेरिका ने दावा किया है कि पाकिस्तान हिंदू और ईसाई लड़कियों को चीन का दासी बना रहा है। यानी पाकिस्तान पर जबरन शादी करवाने का आरोप लग रहा है। अमेरिका में धार्मिक आजादी से जुड़े विभाग के अधिकारी सैमुअल ब्राउनबैक ने खुलासा किया है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति बदतर होती जा रही है। हिंदू और ईसाई लड़कियों को चीन ले (Pakistan V/S America) जाकर बेचा जा रहा है। 

बाइडन के बेटे पर गिरी गाज, इस मामले में चल रही जांच

बता दें सैमुअल ने पाकिस्तान को लेकर कई बड़े खुलासे किये हैं। इसमें सबसे बड़ा खुलासा यही है कि चीनी नागरिक औरतों को खरीदने के लिए पाकिस्तान आते हैं और उन्हें हिंदू और ईसाई लड़कियां (Pakistan V/S America) बेच दी जाती हैं। अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं को चीन के लोगों से शादी के लिए मजबूर किया जाता है। साथ ही उन्हें चीन में दासी के तौर पर पेश किया जाता है और उनकी मार्केटिंग की जाती है। जिन परिवारों की ये लड़कियां हैं उनकी कोई सुनवाई नही की जाती। 

दुनिया में मौजूद हैं Aliens, इजरायल ने किया दावा

आखिर क्या है वजह-

अमेरिका ने हाल ही में 10 ऐसे देशों की सूची जारी की थी, जहां धार्मिक आजादी नहीं मिलती हैं। इस सूची में पाकिस्तान और चीन भी शामिल (Pakistan V/S America) हैं। इस मसले पर ब्राउनबैक ने कहा कि चीन द्वारा दशकों से लागू की गई ‘एक बच्चा नीति’ की वजह से महिलाओं की संख्या बेहद कम हैं। इसी वजह से चीनी पुरुषों के लिए दुल्हन या दासी के रूप में महिलाओं का आयात एक बड़ी प्राथमिकता बनी हुई है और पाकिस्तान इसी का फायदा उठा रहा है। 

दुनिया से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें World News In hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here