पाकिस्तान की हुई ‘बेइज्जती’, चीन और अमेरिका ने वापस लौटाए तोहफे में भेजे गए आम

आर्थिक तंगी से जूझ रहा पाकिस्तान अब 'मैंगो डिप्लोमेसी' पर उतर आया है। मगर इसमें भी उसकी बेइज्जती हो गई है।

0
430
Pakistan Mango Diplomacy

New Delhi: आर्थिक तंगी से जूझ रहा पाकिस्तान अब ‘मैंगो डिप्लोमेसी’ (Pakistan Mango Diplomacy) पर उतर आया है। मगर इसमें भी उसकी बेइज्जती हो गई है। दरअसल पाकिस्तान दुनियाभर के देशों को तोहफे में आम की अलग-अलग किस्मे भेज रहा है। लेकिन उसके मित्र देश चीन और अमेरिका को ये ‘मैंगो डिप्लोमेसी’ रास नहीं आई है। इन देशों ने कोरोना वायरस का हवाला देते हुए इसे स्वीकार करने से मना कर दिया है।

Also Read: पाकिस्तान में तेजी से बढ़ी गधों की संख्या, जानें किसके साथ मिलकर कमा रहा मुनाफा

बता दें कि पाकिस्तान के राष्ट्रपति डॉ. आरिफ अल्वी की ओर से 32 से अधिक देशों के प्रमुखों को तोहफे में आम भेजे थे लेकिन अमेरिका, चीन के साथ-साथ कई अन्य देशों ने आमों को स्वीकार करने से इनकार कर दिया। इनमें कनाडा, नेपाल, मिस्र और श्रीलंका भी शामिल हैं। इन देशों ने भी कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू क्वारंटाइन नियम का हवाला देते हुए इनकार किया है।

Also Read: अमीर देश करेंगे मदद, टीकाकरण में तेजी क्यों नहीं आ रहीं ?

बता दें कि पाकिस्तान (Pakistan Mango Diplomacy) ने भारत को भी आम भेजे थे। साल 2015 में पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने दोनों देशों के बीच सद्भावना को बढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी, तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और कांग्रेस पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को आम भेजे थे।

Read more articles on World News In hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here