POK में स्थानीय लोगों ने किया चीन के खिलाफ प्रदर्शन

मुजफ्फराबाद Muzaffarabad (POK) में स्थानीय लोगों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया, चीन सिन्दु और झेलम नदी पर अवैध बाँध बना रहा.

0
305
Muzaffarabad (pok)

New Delhi: गलवान में पीछे हटने के बाद चीन अब भी सुधरने का नाम नहीं ले रहा है. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) के मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) में चीन, पाकिस्तान के साथ मिल कर अवैध बांध बना रहा है, जिसे लेकर स्थानीय लोगों ने चीन के खिलाफ रैली निकाली.

Corona Virus Update: भारत में 20 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) के मुजफ्फराबाद (Muzaffarabad) में स्थानीय लोगों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया, चीन सिन्धु और झेलम नदी पर अवैध बाँध बना रहा. स्थानीय लोगों ने प्रशासन से सवाल किया कि किस कानून के तहत पीओके में ये बांध बनाया जा रहा हैं. पीओके के लोगों ने कहा कि नदियों पर कब्‍जा करके पाकिस्‍तान और चीन संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्‍तावों का उल्‍लंघन कर रहे हैं.

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हमला

स्थानीय लोगो ने कोहला प्रोजेक्ट के खिलाफ भी आवाज़ उठाई, कोहला प्रोजेक्ट में पाकिस्तान और चीन ने पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर में 2.4 अरब डॉलर के हाइड्रो पावर प्रॉजेक्ट के लिए यह समझौता किया है. इस प्रोजेक्ट के तहत चीन अपने बेल्ट ऐंड रोड इनिशिएटिव (Belt and Road Initiative) के सपने को पूरा करना चाहता है. इसके तहत चीन गल्फ देशो से अफ्रीका और यूरोप के देशो तक अपना इकनॉमिक लिंक बनाना चाहता है.

पाकिस्तान की सरकार ने सोमवार को कश्मीर के सुधानोटी जिले में झेलम नदी पर आजाद पट्टान हाइड्रो प्रॉजेक्ट का ऐलान किया. यह बांध चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे का हिस्सा है. इस प्रॉजेक्ट को कोहाला हाइड्रोपावर कंपनी ने डिवेलप किया है जो चीन की तीन गॉर्गेज कॉर्पोरेशन की इकाई है. समझौते पर दस्तखत के समारोह में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी और चीन के राजदूत याओ जिंग शामिल थे.

Mahendra Singh Dhoni के 39वां जन्मदिन पर, जानिए उनसे जुड़ी कुछ बातें

भारत के नज़रिये से यह अच्छी खबर नहीं है. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर का मसला काफी लंबे समय से संयुक्त राष्टीय (UN ) में पड़ा है. परन्तु इस के बाबजूद पाकिस्तान, चीन के साथ मिल कर अवैध निर्माण कर रहा है. जो की संयुक्त राष्टीय (UN ) के नियमों के खिलाफ है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here