History of New Year 2022: 1 जनवरी से क्यों करते है नए साल के जश्न की शुरुआत ? जानिए क्या है इतिहास ?

0
111
New Year 2022
History of New Year 2022: 1 जनवरी से क्यों करते है नए साल के जश्न की शुरुआत ? जानिए क्या है इतिहास ?

History of Celebrating New Year:  नए साल (New Year) की शुरुआत हो चुकी है। ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार नए साल का दिन (1 जनवरी) सबसे लोकप्रिय समारोहों में से एक है। दुनिया भर में, लोग इस अवसर को परिवार और दोस्तों के साथ मनाते हैं, या बड़े पैमाने पर सभा करते हैं।

वे अपने घरों को सजाते हैं, पार्टियां करते हैं और अपने प्रियजनों के लिए सेंकते हैं। दुनिया नए साल का स्वागत बहुत जोश और उल्लास के साथ करती है। प्रत्येक व्यक्ति आने वाले वर्ष के लिए नए संकल्प और योजनाएँ बनाता है।

1 जनवरी को क्यों मनाया जाता है नया साल ?

क्या आपको पता है 1 जनवरी को क्यों मनाया जाता है नया साल ? आपको जानकर हैरानी होगी कि पहले नया साल 1 जनवरी को नहीं मनाया जाता था।पहले नया साल कभी 25 मार्च को, तो कभी 25 दिसंबर को लोग मनाते थे। रोम के राजा नूमा पोंपिलस ने रोमन कैलेंडर में बदलाव कर दिया जिसके बाद जनवरी को साल पहला महीना माना गया।  इससे पहले मार्च को साल का पहला महीना कहा जाता था। आईए जानते हैं क्या है इसके पीछे की कहानी

मार्च का नाम मार्स (mars) ग्रह पर रखा गया है। मार्स यानी मंगल ग्रह को रोम में लोग युद्ध का देवता मानते हैं। सबसे पहले जिस कैलेंडर को बनाया गया था उसमें सिर्फ 10 महीने होते थे। ऐसे में एक साल में 310 दिन होता था और 8 दिन का एक सप्ताह माना जाता था।

बताया जाता है कि रोमन शासक जूलियस सीजर ने कैलेंडर में बदलाव किया। सीजर ने ही 1 जनवरी से नए साल की शुरुआत की थी। जूलियस द्वारा कैलेंडर में बदलाव करने के बाद साल में 12 महीने कर दिए गए। जूलियस सीजर ने खगोलविदों से मुलाकात की, जिसके बाद पता चला कि धरती 365 दिन और छह घंटे में सूर्य की परिक्रमा करती है। इसको देखते हुए जूलियन कैलेंडर में साल में 365 दिन कर दिया गया।

पोप ग्रेगरी ने साल 1582 में जूलियन कैलेंडर में लीप ईयर को लेकर गलती खोजी थी। उस समय के मशहूर धर्म गुरू सेंट बीड ने बताया कि एक साल में 365 दिन, 5 घंटे और 46 सेकंड होते हैं। इसके बाद रोमन कैलेंडर में बदलाव किया गया और नया कैलेंडर बनाया गया। तब से ही 1 जनवरी को नया साल मनाया जाने लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here