Kanpur Violence: पैगम्बर पर विवादित बयान देने से विदेशों में रोष, कुवैत में भारतीय सामान का वहिष्कार

0
654
Image Source-Hindustan Samachar

Kanpur Violence: भाजपा नेताओं द्वारा पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad) को लेकर दिए गए बयानों पर पहले देश और विदेशों में विरोध रुकने का नाम नहीं ले रहा है। कतर (Qatar), कुवैत (Kuwait) और ईरान (Iran) सहित कई खाड़ी देशों में इस बात का कड़ा विरोध किया जा रहा है। क़तर समेत खाड़ी के कई देशों ने भारत के सामान का भी विरोध करना शुरू कर दिया है। ऐसी खबरें आ रही हैं कि कुवैत के सुपरमार्केट ने भारतीय उत्पादों को अपनी अलमारियों से हटा कर ट्रॉलियों में डाल दिया है। अल-अर्दिया को-ऑपरेटिव सोसाइटी स्टोर के कर्मचारियों ने पैगंबर मोहम्मद को लेकर की गईं टिप्पणियों को “इस्लामोफोबिक” करार दिया और विरोध में भारतीय चाय और अन्य उत्पादों को शेल्व से हटाकर ट्रॉलियों में डाल दिया।

कानपुर हिंसा (Kanpur Violence) के बाद सऊदी अरब (Saudi Arab), कतर (Qatar) और इस क्षेत्र के अन्य देशों के साथ-साथ काहिरा में प्रभावशाली अल-अजहर यूनिवर्सिटी ने भाजपा के प्रवक्ता द्वारा की गई टिप्पणी की निंदा की है। आपको बता दें कि विवादित बयान देने वाले दोनों प्रवक्ताओं को भाजपा ने पार्टी से बर्खास्त कर है। विवादित बयान देने वाली प्रवक्ता ने हाल ही माफ़ी भी मांगी है और अपने शब्द वापस भी लिए हैं।

भारतीय वस्तुओं को प्लास्टिक की चादरों से ढक दिया

कुवैत सिटी के ठीक बाहर सुपरमार्केट में, चावल के बोरे और मसालों और मिर्च की अलमारियों को प्लास्टिक की चादरों से ढक कर भारतीय वस्तुओं का विरोध किया जा रहा है। जिन चादरों से भारतीय सामान को ढका गया है उनके अरबी भाषा में लिख दिया है कि “हमने भारतीय उत्पादों को हटा दिया है”।

एक कुवैती मुस्लिम के लिए हमारे पैगंबर का अपमान स्वीकार नहीं

स्टोर के सीईओ नासिर अल-मुतारी ने एएफपी से कहा कि “एक कुवैती मुस्लिम के लिए हमारे पैगंबर का अपमान स्वीकार नहीं है। सुपरमार्केट चैन के एक अधिकारी ने कहा कि कंपनी व्यापक बहिष्कार पर भी विचार करेगी। भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता नुपुर शर्मा के बयान से मुसलमानों में काफी गुस्सा दिखाई दे रहा है। पिछले हफ्ते टीवी पर एक बहस के दौरान नुपूर शर्मा की टिप्पणी को उत्तर प्रदेश में झड़पों के लिए जिम्मेदार ठहराया जा रहा है और उनकी गिरफ्तारी की मांग की गई है।

इस बीच, कुवैत के विदेश मंत्रालय ने भी कहा कि भारतीय राजदूत को रविवार को तलब किया गया और एशिया (Asia) मामलों के सहायक विदेश मंत्री ने उन्हें एक आधिकारिक विरोध नोट भी सौंपा, जिसमें पैगंबर के खिलाफ भाजपा नेता के विवादित बयान को साफ़ तौर पर खारिज करते हुए इनकी निंदा की गई है। नयी दिल्ली में, भाजपा ने पैगंबर के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी के बाद अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा को निलंबित कर दिया जबकि दिल्ली मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को भी पार्टी निष्कासित कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here