फ़िनलैंड के नाटो में शामिल होने के ऐलान से रूस पर कितना पड़ेगा प्रभाव, जानिए ?

0
53
finland
Image Source-Navbharat Times

रूस (Russia) की चिंता बढ़ाने के लिए एक और देश आगे आ गया है। यूक्रेन (Ukraine) में 2 महीने से अधिक लम्बे समय से चल रहे युद्ध की वजह थी उसका नाटो की तरफ जाना। अब रूस की चिंता बढ़ाने के लिए एक और देश फिनलैंड के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने गुरुवार को ऐलान कर दिया है कि उनका देश उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (NATO) में शामिल होने के लिए आवेदन देने का समर्थन करता है। देश के राष्ट्रपति सौली नीनिस्टो (Souli Ninisto) और प्रधानमंत्री सना मरीन (Sanna Marine) की घोषणा का मतलब है कि फिनलैंड ने नाटो की सदस्यता लेने का पूरी तरह से मन बना लिया है।

नाटो में शामिल होने से पहले कुछ प्रक्रियाएं होती है जो अभी बाकी हैं। फ़िनलैंड (Finland) का यह फैसला रूस के लिए बेहद चिंताजनक है, क्योंकि रूस हमेशा से नाटो के पूर्व में विस्तार का विरोध करता रहा है। नीनिस्टो और मरीन ने अपने एक संयुक्त बयान में कहा है कि अब जब फैसला करने की घड़ी नजदीक आ गई है, हम संसदीय समूहों और राजनीतिक दलों को जानकारी देने के लिए हमारे समान विचार साझा कर रहे हैं।’

दोगुनी हो जाएगी रूस के साथ नाटो की सीमा

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने कहा कि नाटो के सदस्य के तौर पर, फिनलैंड (Finland) पूरे रक्षा गठबंधन को मजबूत करेगा। फिनलैंड (Finland) को बिना किसी देरी के नाटो की सदस्यता हासिल करने के लिए आवेदन देना चाहिए।’ बयान में यह भी कहा गया कि हम उम्मीद करते हैं कि इस निर्णय को अंजाम तक पहुंचाने के लिए आवश्यक कार्रवाई आने वाले कुछ दिनों में जल्द से जल्द पूरी की जाएगी।’ यदि फ़िनलैंड (Finland) नाटो में शामिल हो जाता है रूस (Russia) से लगने वाली नाटो की सीमा दोगुनी हो जाएगी।

स्वीडन-फिनलैंड मिलकर नाटो को करेंगे मजबूत

बुधवार को यूक्रेनी राष्ट्रपति (Volodymyr Zelensky) ने अपने एक बाण में कहा कि यदि यूक्रेन युद्ध से पहले ही नाटो में शामिल हो गया होता तो आज युद्ध नहीं होता। यूक्रेन, जॉर्जिया और हर्जेगोविना के विपरीत फिनलैंड और स्वीडन के औपचारिक रूप से आवेदन के बाद अपेक्षाकृत तेज़ी से गठबंधन में शामिल होने की उम्मीद बताई जा रही ह। स्वीडन (Sweden) की सेना यूरोप में सबसे मजबूत वायु सेना मानी जाती है। अगर स्वीडन (Sweden) और फिनलैंड नाटो में शामिल हो गए तो बाल्टिक क्षेत्र में नाटो की उपस्थिति को नाटकीय रूप से मजबूत करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here