जॉर्ज को मिला इंसाफ, हत्या मामले में डेरेक शॉविन को 22 साल 6 महीने की सजा 

मौत के मामले में पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक शॉविन को हत्या का दोषी करार देते हुए 22 साल और छह महीने के लिए सजा सुनाई है।

0
796
George Floyd Case
मौत के मामले में पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक शॉविन को हत्या का दोषी करार देते हुए 22 साल और छह महीने के लिए सजा सुनाई है।

America: अदालत ने अफ्रीकी मूल के अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ़्लॉयड (George Floyd Case) की पिछले साल हुई मौत के मामले में पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक शॉविन को हत्या का दोषी करार देते हुए 22 साल और छह महीने के लिए सजा सुनाई है। 

बाइडेन के बेटे ने कॉल गर्ल को किया 18 लाख का पेमेंट, पिता का था पैसा…कैसे खुला राज ?

हत्या के लिए सबसे बड़ी सजा

बता दें फ्लॉयड (George Floyd Case) के परिवार के प्रति संवेदना देते हुए आखिरकार अब ‘उनके मन को कुछ शांति मिलेगी। अश्वेत व्यक्ति की हत्या के मामले में किसी पुलिस अधिकारी को दी गयी ये अब तक कि सबसे लंबी सजा है।

सुनवाई के दौरान क्या हुआ?

सुनवाई के दौरान फ़्लॉयड (George Floyd Case) के भाई टेरेंस फ़्लॉयड ने अधिकतम 40 साल की सज़ा की मांग की थी। टेरेंस ने कहा कि “क्यों? तुम क्या सोच रहे थे? उस वक़्त तुम्हारे दिमाग में क्या चल रहा था जब तुमने अपना घुटना उसकी गर्दन पर रखा था?” सुनवाई के दौरान फ़्लॉयड की बेटी का एक वीडियो भी देखा गया, जिसमें 7 साल की जियाना कह रही है कि वह अपने पिता को याद करती है और वह उनसे प्यार करती है। 

यूपी की बेटी ने न्यूयॉर्क में फहराया परचम, ‘प्रेजिडेंट एजुकेशन अवॉर्ड’ से नवाजा गया

क्या हुआ था जॉर्ज के साथ

जॉर्ज फ़्लॉयड (George Floyd) ने 25 मई, 2020 की शाम को दक्षिण मिनेपोलिस की एक दुकान से सिगरेट का एक पैकेट ख़रीदा था। एक स्टाफ़ का मानना था कि फ़्लॉयड ने उसे 20 डॉलर का नकली नोट दिया था, इसलिए वह बेचे गए सिगरेट के पैकेट को वापस मांग रहा था। लेकिन जॉर्ज फ़्लॉयड ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। इसके बाद दुकान के स्टाफ़ ने पुलिस को फ़ोन कर दिया

जब पुलिस ने मामले पर संज्ञान लिया, तब फ्लॉयड को हथकड़ी लगा दी गई। जिसके बाद जॉर्ज और पुलिस के बीच झड़प हो गई। फ़्लॉयड पुलिस के साथ जाना नहीं चाह रहे थे। ऐसे में डेरेक शॉविन नाम के पुलिस अधिकारी ने फ़्लॉयड को ज़मीन पर पटक दिया और उसके चेहरे को अपने घुटने के नीचे दबा दिया।

करीब 9 मिनट तक फ़्लॉयड की गर्दन पर अपने घुटने को दबाए रखा। कई लोगों ने वीडियो बना लिया। फ़्लॉयड ने 20 से ज्यादा बार कहा कि उसे साँस लेने में दिक्कत हो रही है। इसके बावजूद उसे नहीं छोड़ा गया। थोडी देर में जॉर्ज फ़्लॉयड की मौके पर ही मौत हो गई। 

दुनिया से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें World News In hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here