कोरोना देने वाले चीन की वैक्सीन भी असरदार नहीं, स्वास्थ्य अधिकारियों ने भी माना

डायरेक्टर गाओ फू ने शनिवार को अपने एक भाषण के दौरान ये बात मान ली की कोरोना वायरस वैक्सीन Corona Vaccine कम असरदार है।

0
312
Corona Vaccine
डायरेक्टर गाओ फू ने शनिवार को अपने एक भाषण के दौरान ये बात मान ली की कोरोना वायरस वैक्सीन Corona Vaccine कम असरदार है।

China: ऑफ डिजीज कंट्रोल के डायरेक्टर गाओ फू ने शनिवार को अपने एक भाषण के दौरान ये बात मान ली की कोरोना वायरस वैक्सीन (Corona Vaccine) कम असरदार है। चीन के टीकों से ज्यादा बचाव नहीं किया जा सकता। गाओ फू ने कहा कि चीन के टीकों में बचाव दर बहुत ज्यादा नहीं है। इसलिए सरकार इन्हें और अधिक प्रभावी बनाने का विचार (Corona Vaccine) कर रही है। 

कोरोना महामारी से जुड़ी सनसनीखेज कहानी, जानिए पूरी डिटेल

विदेश मंत्रालय के मुताबिक सिनोपार्म द्वारा बनाए गए टीके, मैक्सिको, तुर्की, इंडोनेशिया, हंगरी, ब्राजील और तुर्की समेत 22 देशों में दिए गए हैं। ब्राजील के शोधकर्ताओं ने चीन की टीका (Corona Alert) निर्माता कंपनी सिनोवैक के संक्रमण रोधी टीकों के असरदार होने की दर लक्षण वाले संक्रमण से बचाव में 50.4 प्रतिशत आई है। तो वहीं इसके मुकाबले फाइजर द्वारा बनाए गए टीके 97 प्रतिशत असरदार दिखे है। 

कैसे Social Media बच्चों के लिए बन गया है ‘बम’ !

क्या है MRNA

दरअसल, चीन ने अपने देश में बाकी देशों के टीके की मंजूरी नहीं (Corona Virus) दी है। गाओ ने टीके के संबंध में रणनीति पर किसी तरह के बदलाव के ब्योरे तो नहीं दिए लेकिन उन्होंने ‘एमआरएनए’ का जिक्र जरुर किया है। बता दें ये प्रयोग एक तकनीक है, जिसका इस्तेमाल पश्चिम देशों के टीका निर्माता करते हैं। चीन के दवा निर्माता पारंपरिक तकनीक का इस्तेमाल करते हैं। गाओ ने कहा कि, ‘हर एक व्यक्ति को उन लाभ के बारे में विचार करना चाहिए, जो एमआरएनए टीके मानव जाति को पहुंचा सकते हैं। 

दुनिया से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें World News In hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here