Santa Clause Life Story: जानिए कौन है सांता क्लॉज़ और उनसे जुड़े रोचक तथ्य ?

0
115
christmas day
Santa Clause Life Story: जानिए कौन है सांता क्लॉज़ और उनसे जुड़े रोचक तथ्य ?

Santa Clause Life Story: 25 दिसंबर (25 December) को पूरे देश में यहाँ तक दुनिया में क्रिसमस (Christmas) का त्यौहार मनाया जाएगा। 25 दिसंबर को मनाया जाने वाला क्रिसमस दुनिया के अधिकांश हिस्सों में सबसे खुशी और लोकप्रिय अवसरों में से एक माना जाता है। जैसे-जैसे क्रिसमस नजदीक आ रहा है।

हर साल दुनियाभर में 25 दिसंबर को क्रिसमस मनाया जाता है। इस दिन सांता क्लॉज़ घर-घर जाकर बच्चों को उपहार और चॉकलेट देते हैं। वर्तमान समय में उपहार देने की प्रथा को बल मिला है। बच्चे भी क्रिसमस आने पर सांता क्लॉज़ के इंतजार में रहते हैं।

इसके अगले दिन क्रिसमस पर गिरिजाघरों में प्रभु यीशु के जन्मदिन पर सांस्कृतिक कार्यक्रम समेत प्रार्थना की जाती है। लेकिन क्या आपको पता है कि सांता क्लॉज़ कौन हैं और बच्चों को उपहार देने की प्रथा कब से शुरू हुई है।

सांता क्लॉज कौन है (Santa Claus)

सांता क्लॉज (Santa clause) को लेकर कई कहानियां हैं। कई इतिहासकार ओडिन को सांता क्लॉज़ मानते हैं। वहीं, कुछ इतिहासकार संत निकोलस को सांता मानते हैं। आसान शब्दों में कहें तो सांता को लेकर जानकारों में मतभेद है। ओडिन के बारे में ऐसा कहा जाता है कि ईसाई धर्म के पहले त्योहार पर शिकार के लिए जाते थे।

ऐसी मान्यता है कि उन्हें सांता माना गया और वर्तमान समय में सांता बर्फीली जगह पर रहते हैं, जो सांता स्लेस पर बैठकर घर-घर जाकर बच्चों को उपहार देते हैं। हालांकि, प्रभु यीशु का जन्म इसरायल में हुआ है। अतः ओडिन को लेकर लोगों में मतभेद है।

वहीं, संत निकोलस के बारे में ऐसा कहा जाता है कि उनका जन्म चौथी शताब्दी में तत्कालीन समय में बीजान्टिन एनाटोलिया के मायरा में हुआ था। वर्तमान समय में मायरा में है। निकोलस को बच्चों से बेहद स्नेह और प्यार था। निकोलस हमेशा गिफ्ट और चॉकलेट खरीदकर खिड़की के माध्यम से बच्चों को देते थे।

उनके इस कार्य हेतु उन्हें बिशप बना दिया गया। इससे संत निकोलस की जिम्मेवारी बढ़ गई। कुछ समय में ही संत निकोलस यूरोप में प्रसिद्ध हो गए। लोग उन्हें क्लॉज कहकर पुकारने लगे। चर्चों ने उन्हें संत की उपाधि दी, तो लोग उन्हें सांता क्लॉज कहकर पुकारने लगे।

ऐसा माना जाता है कि क्रिसमस पर बच्चों को उपहार देने की प्रथा संत निकोलस ने शुरू की है। इसके अलावा, कई अन्य सांता की जीवनी की कहानियां पुस्तकों में वर्णित है।

क्रिसमस को बहुत मज़ेदार और दिलचस्प बनाने वाली कुछ परंपराओं में शामिल हैं:

क्रिसमस ट्री को सजाना: मजेदार हिस्सा परिवार के साथ मिलना और क्रिसमस ट्री को रंगीन गेंदों, सितारों और उपहारों से सजाना है।

कुकीज पकाना, फैमिली आउटिंग और कार्ड बनाना: क्रिसमस का एक और दिलचस्प हिस्सा ये है। यह बहुत खुशी लाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here