चीन में फिर सामने आये कोरोना वायरस के मामले

नए मामले आने के बाद बीजिंग के अधिकारियों की चिंताएं बढ़ गई हैं, क्योंकि स्थानीय स्तर पर संक्रमित आखिरी मरीज को 9 जून को अस्पताल से छुट्टी देने के बाद शहर के हालात सामान्य हो रहे थे

0
378
Beijing
Beijing

Beijing: चीन (China) की राजधानी बीजिंग (Beijing) के कुछ हिस्सों को एक बार फिर कोरोना के कारण लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। बीजिंग में लगभग 2 महीने बाद गुरुवार को पहला कोरोना वायरस संक्रमण का मामला सामने आया। और इसके बाद शुक्रवार को दो और लोगों में कोरोना वायरस मामले की पुष्टि हुई। जिसके बाद बीजिंग समेत चीन में कोरोना के 10 नए मामले हो गये।

Indo Nepal सीमा पर तनाव के बीच फायरिंग, 1 शख्स की मौत 2 जख्मी

नए मामले आने के बाद बीजिंग (Beijing) के अधिकारियों की चिंताएं बढ़ गई हैं, क्योंकि स्थानीय स्तर पर संक्रमित आखिरी मरीज को 9 जून को अस्पताल से छुट्टी देने के बाद शहर के हालात सामान्य हो रहे थे। सावधानी के तौर पर प्रशासन ने बीजिंग में स्कूलों की पहली से तीसरी कक्षाएं खोलने की योजना को स्थगित कर दिया है।

फेंगताई जिले के उपाध्यक्ष झांग जेइ ने बताया कि दोनों संक्रमित जिले के चाइना मीट फूड रिसर्च सेंटर के कर्मचारी हैं। बीजिंग में लगातार तीन दिनों में दो मामले आने से शहर में चिंता बढ़ गई है क्योंकि सरकार ने गत महीनों शहर को अपेक्षाकृत अलग-थलग रखा था। सरकार ने यह सुनिश्चित किया था कि कोई अंतरराष्ट्रीय उड़ान या विदेश में फंसे चीनी नागरिकों को वापस लेकर आ रहे विमान बीजिंग में नहीं उतरे। सभी उड़ानों को अन्य शहरों की ओर मोड़ा गया और 14 दिनों के कॉरेंटाइन सहित जांच अनिवार्य बनाया गया।

भारत का समर्थन करने वाली नेपाली सांसद के घर पर हमला

चीन की आधिकारिक मीडिया ने बताया कि बीजिंग में नए मामले आने के बाद स्कूलों की पहली से तीसरी कक्षाओं को खोलने की योजना स्थगित कर दी गई है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार को दो संक्रमितों में से एक ने बीजिंग से बाहर की यात्रा थी जिसके बाद अधिकारी उसके संपर्क में आए लोगों का पता लगा रहे हैं।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के 7 नए मामलों की भी पुष्टि हुई है, जबकि गुरुवार को बिना लक्षण वाला एक मरीज मिला। उल्लेखनीय है कि गुरुवार को चीन में 83,064 कोविड-19 संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें वे 65 लोग शामिल हैं जिनका इलाज चल रहा है। हालांकि, किसी भी मरीज की हालत गंभीर नहीं है। एनएचसी के मुताबिक चीन में 78,365 मरीज ठीक हो चुकी हैं, जबकि 4,634 लोगों की मौत हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here