BSP नेताओं पर मायावती की बड़ी कार्रवाई, पूर्व मंत्री समेत 7 को दिखाया बाहर का रास्ता

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने आगरा और अलीगढ़ जोन के पदाधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, बीएसपी ने लंबे वक्त तक कॉर्डिनेटर रहे पूर्व एमएलसी सुनील चित्तौड़ सहित 7 नेताओं पर कार्रवाई की गई है।

0
45
BSP chief Mayawati

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने आगरा और अलीगढ़ जोन के पदाधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, बीएसपी ने लंबे वक्त तक कॉर्डिनेटर रहे पूर्व एमएलसी सुनील चित्तौड़ सहित 7 नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया है।

जानकारी के अनुसार, इन नेताओं पर पार्टी विरोधी गतिविधि और अनुशासनहीनता के चलते कार्रवाई की गई है। बता दें कि पार्टी से निष्काषित किए गए नेताओं में सुनील चित्तौड़ के अलावा पूर्व मंत्री नारायण सिंह सुमन, दो पूर्व विधायक कालीचरण सुमन और स्वदेश सिंह तीन पूर्व जिलाध्यक्ष भारतेंदु अरुण, मलखान सिंह व्यास और विक्रम सिंह शामिल हैं।

गौरतलब है कि उक्त पार्टी पादाधिकारियों पर कार्रवाई खुद बसपा अध्यक्ष मायावती के आदेश पर की गई है। मालूम हो कि सुनील चित्तौड़ की गिनती ब्रज में बसपा के बड़े नेताओं में होती थी। मंडल और जोनल कॉर्डिनेटर के अहम पदों पर वह काफी समय तक रहे हैं।

बसपा जिलाध्यक्ष संतोष कुमार आनंद के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, निष्काषित सभी नेताओं को कई बार चेतावनी दी गई कि वह अपनी कार्यशैली में सुधार करें। चेतावनी के बावजूद ये लोग पार्टी विरोधी गतिविधियों से बाज नहीं आए, लिहाजा ये कार्रवाई की गई है।

उल्लेखनीय है कि पूर्व मंत्री नारायण सिंह सुमन को पहले भी दो बार पार्टी से निकाला गया था। दोनों बार कुछ समय के बाद ये वापस पार्टी में आए। पिछली बार निकाले जाने के बाद वह 2017 में आगरा ग्रामीण सीट से रालोद के टिकट पर विधान सभा चुनाव भी लड़े थे। इसमें हार मिली थी।

बता दें कि ताजनगरी में पिछले दो सालों में बसपा को छोड़कर जाने वाले नेताओं की भी लंबी लिस्ट है। पूर्व विधायक धर्मपाल सिंह, सूरजपाल, भगवान सिंह कुशवाहा इनमें शामिल हैं। ये सभी नेता 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस में शामिल हो गए थे। 2017 के चुनाव से पहले जिले में बसपा के 6 विधायक थे। 2017 में एक भी उम्मीदवार नहीं जीता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here