उन्नाव पीड़िता की मौत के बाद धरने पर बैठे अखिलेश यादव, BJP सरकार को बताया दोषी

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता के निधन से देश भर में लोगों का गुस्सा देखने को मिल रहा है। दरअसल, पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात निधन हो गया था।

0
139
Former Chief Minister Akhilesh Yadav

उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता के निधन से देश भर में लोगों का गुस्सा देखने को मिल रहा है। दरअसल, पीड़िता का दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात निधन हो गया था।

गैंगरेप की पीड़िता के निधन से दुखी लोग अपराधियों को जल्द फांसी में लटकाने की मांग कर रहे हैं। इसी कड़ी में सामजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लखनऊ विधानसभा के सामने धरने पर बैठ गए हैं।

जानकारी के अनुसार, अखिलेश यादव के साथ उनकी पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी धरने पर बैठे हैं। यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा, देश हैदराबाद की घटना को लेकर गुस्से में था। खासकर बहनें, माताएं, उसके बाद उन्नाव की घटना उसी तरह से हुई।

उन्नाव की घटना बीजेपी सरकार में पहली नहीं है जो बेटी के साथ हुआ। वह बहादुर थी, उसके आखिरी शब्द थे की वह जिंदा रहना चाहती थी। सफदरजंग के डॉक्टरों की कोशिशों के बाद भी उसकी जान नहीं बच सकी। हमारे लिए यह काला दिवस है। एक बेटी जो न्याय मांग रही थी हम उसे न्याय नहीं दे पाए।

अखिलेश यादव ने कहा, उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार के राज में यह पहली घटना नहीं है। उन्होंने याद दिलाते हुए कहा, जब मुख्यमंत्री आवास के सामने एक बेटी न्याय मांग रही थी और उसे आत्मदाह की कोशिश करनी पड़ी तब जाकर मुकदमा लिखा गया।

बाराबंकी की उस बेटी की घटना जो यहीं मुख्यमंत्री आवास पर आई थी न्याय मांगने के लिए उसने भी आत्मदाह किया और बाद में उसकी जान नहीं बची।

उन्नाव की एक बेटी का तो पूरा परिवार खो दिया। कौन दोषी था, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार दोषी थी। यह बेटी जिसकी जान गई है तो उसका भी कोई दोषी है तो वह सरकार है, क्योंकि सरकार की जानकारी में था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here