सपा अध्यक्ष Akhilesh Yadav के करीबी नेता नीटू के बैंक पर IT की नजर, यूपी चुनाव से पहले छापेमारी क्यों ?

0
81
Income Tax Raid
SP अध्यक्ष अखिलेश यादव के ओएसडी और पार्टी के करीबियों के यहां आयकर विभाग की छापेमारी जारी हैं।

SP अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के ओएसडी और पार्टी के करीबियों के यहां आयकर विभाग की छापेमारी जारी हैं। सोमवार देर रात मैनपुर, आगरा और दिल्ली में जांच चली हैं। इस जांच में आयकर विभाग को जो संपत्तियां, बैंक लॉकर और कंपनियों के दस्तावेज मिले हैं, उनका वेरिफिकेशन किया जा रहा है। सोमवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश के करीबी नीटू को लेकर आयकर विभाग (Income Tax Raid) की टीम बैंकों में भी पहुंची, जहां पर नीटू और उनके परिवार के लॉकर हैं। हालांकि इनके यहां ज्यादा कुछ नहीं मिला, मिली जानकारी के मुताबिक, बैंक लॉकर से आयकर विभाग को कुछ संपत्तियों के दस्तावेज मिले है।

मनोज यादव के यहां आयकर विभाग की छापेमारी

आगरा के उद्योगपति और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता मनोज यादव के यहां सोमवार को आयकर विभाग ने छापेमारी की। IT अधिकारियों ने जिले के न्यू आगरा इलाके में यादव के आवास पर छापेमारी की। अधिकारियों ने यादव के आवास पर छापेमारी के दौरान नकदी और दस्तावेज जब्त किए। जानकारी के मुताबिक, सभी नेताओं के यहां आधी रात को छापेमारी की जा रही है। छापेमारी में लखनऊ, आगरा, मैनपुरी, मऊ और यहां तक कि बैंगलोर में लगभग एक दर्जन स्थानों पर कई दस्तावेज जब्त किए

सपा का पीएम मोदी और सीएम योगी पर हमला

सपा सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर निशाना साधा। नाम न बताने की शर्त पर, उन्होंने कहा कि बीजेपी फरवरी-मार्च 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सत्ता बनाए रखने के लिए अपने विरोधियों को निशाना बना रही है। समाजवादी पार्टी के नेताओं ने कहा कि पीएम मोदी का पूरा ध्यान उत्तर प्रदेश पर था क्योंकि वे उत्तर प्रदेश के वाराणसी से लोकसभा सांसद भी थे। लगता है कि पीएम मोदी भूल गए हैं कि वे पूरे देश के प्रधानमंत्री हैं।

चुनाव UP Election 2022 नजदीक आने से पहले छापेमारी क्यों ?

सवाल ये उठता कि जिन नेताओं के घर पर छापे मारे गए, क्या 5 साल से वे भ्रष्टाचार नहीं कर रहे थे? क्या चुनाव से पहले बीजेपी (BJP) को याद आया कि इन सभी के घर पर माल मिलेगा? इन सब के बीच सपा सरकार का कहना है कि हम जनता के बीच जाते रहेंगे लेकिन साइकिल की रफ्तार कम नहीं होगी। ‘लोग अब बदलाव चाहते हैं’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here