Gonda में शहीद राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी की पुण्यतिथि पर बलिदान दिवस का हुआ आयोजन

0
54
Uttar Pradesh News

Rajendra Nath Daeth Anniversary: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोण्डा (Gonda) जिला कारागार के लाहिड़ी उद्यान में बलिदान दिवस मनाया गया है। आज के दिन ही काकोरी कांड में शामिल क्रांतिकारी राजेन्द्र नाथ लाहिड़ी को ब्रिटिश हुकूमत ने फांसी दी थी।

शहीद राजेन्द्र जी पुण्यतिथि पर हर वर्ष यहां मेला लगाता है, मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाता है। बलिदान दिवस के मौके पर आज डीएम मार्केंडेय शाही सहित कई आला अधिकारियों ने शहीद राजेन्द्र नाथ लाहिड़ी जी को पुष्प अर्पित कर श्रदांजलि दी।

श्री राजेंद्रनाथ लाहिड़ी को दो गई श्रद्धांजलि

शहीद राजेन्द्र लाहिड़ी के 95 वे शहीद दिवश पर राजेन्द्र लाहिड़ी के फांसी घर के सामने जिलाधिकारी,मुख्य विकास अधिकारी,अपर पुलिस अधीक्षक और जेल अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा वैदिक रीति रिवाज के तहत आर्य समाज द्वारा प्रतेयक वर्षो की भांति हवन कर श्रधांजलि दी गयी । इसके पश्चात राजेन्द्र लाहिड़ी के प्रतिमा पर राष्ट्रध्वनी पर माल्यार्पण किया इसके बाद समाधिस्थल पर श्रधांजलि दी गयी।

“मैं मरने नहीं जन्म लेने जा रहा हूँ”- श्री राजेन्द्रनाथ लाहिड़ी

फांसी पर झूलने से पहले लाहिड़ी ने कहा था “मैं मरने नहीं बल्कि आजाद भारत में फिर से जन्म लेने जा रहा हूं। देश को ब्रिटिश हुकूमत से छुटकारा दिलाने के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले धरती मां के अमर सपूत राजेंद्र नाथ लाहिड़ी ने फांसी के फंदे पर लटकने से पहले कहा था। कि मैं मरने नहीं बल्कि आजाद भारत में फिर से जन्म लेने जा रहा हूं।

काकोरी ट्रेन लूटकांड के नायक अमर शहीद राजेन्द्र नाथ लाहिड़ी को गोंडा जेल में 17 दिसंबर 1927 को निर्धारित तिथि से 2 दिन पूर्व गोण्डा जिला जेल में फांसी दी गई थी। तब से प्रतिवर्ष उनकी पुण्यतिथि पर समाजसेवियों व प्रशासन द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here