कानपुर के बाद कन्नौज के इत्र व्यापारी पर गिरी गाज, किसका परिवार घर छोड़कर फरार ?

0
115
IT Raid In kannauj
यूपी में लगातार इनकम टैक्स का छापा व्यापारियों पर पड़ रहा हैं। इस बीच इत्र व्यापारी रानू मिश्रा के यहां छापा पड़ा है।

यूपी में लगातार इनकम टैक्स (IT Raid In kannauj) का छापा व्यापारियों पर पड़ रहा हैं। इस बीच एक और इत्र व्यापारी रानू मिश्रा (Ranu Mishra) के यहां छापा पड़ा है। अचानक पड़े इस छापे से व्यापारी सकते में है। बता दें टीम ने रानू के घर को अंदर से बंद कर लिया है और जांच पड़ताल जारी है। इसके साथ ही कार्रवाई भी शुरू कर दी है। अहम बात ये है कि पीयुष जैन के घर पर अब भी डीजीआई के अधिकारी मौजूद हैं और कार्रवाई चल रही है। खबर ये भी है कि शहर के बाकी इत्र व्यापारियों के घर पर भी छापे मारे जा सकते हैं। पीयूष और रानू के यहां हो रही कार्रवाई बाकी व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं।

रानू मिश्रा के घर और कारखानों में विजिलेंस टीम जांच कर रही है

कन्नौज शहर के होली मोहल्ला स्थित बड़े इत्र कारोबारी रानू मिश्रा (Ranu Mishra) के घर और कारखानों में विजिलेंस टीम जांच कर रही है। रानू मिश्रा, पान मसाला और नमकीन बनाने वाली कंपनियों को इत्र कम्पाउंड की सप्लाई करते हैं। ऐसे में कानपुर के कारोबारी पीयूष जैन के बाद ये दूसरी कार्रवाई है। कहा जा रहा है कि आने वाले समय में बाकी व्यापारियों पर भी छापेमारी होगा, गुरुवार को सील किए मकान का ताला खोलकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर चुकी है। 

पीयूष जैन के घर से कैश रखने के लिए 25 बक्से मंगवाने पड़े थे

आयकर विभाग को पीयूष जैन (Piyush Jain) के घर से मिले नोटों की गड्डियां रखने के लिए 25 बक्से मंगवाने पड़े थे। अभी तक घर से 150 करोड़ की नकदी बरामद हुई है और अभी भी कैश गिनने का काम चल रहा है। रुपये गिनने के लिए एक और मशीन मंगवानी पड़ गई है।

ताला लगाकर फरार हुए परिजन

कानपुर के जूही थानाक्षेत्र के आनंदपुरी में रहने वाले पियूष जैन (Piyush Jain) का पुस्तैनी घर कन्नौज में है। यहां पियूष जैन के पिता महेश चन्द्र के साथ भाई अमरीश जैन रहते हैं। जिनको इस बात की सूचना मिली कि कानपुर में पियूष जैन के आवास पर जूही थानाक्षेत्र के आनंदपुरी में डीजीजीआई टीम का छापा पड़ा है तो इसके बाद हड़कंच मच गया और परिवार वाले मौके से फरार हो गए।

प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने बीजेपी पर लगाया आरोप

इस मामले ने राजनीतिक मोड़ ले लिया है। सपा के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि डबल इंजन की सरकार में लूट भी डबल हो गई। कानपुर का व्यापारी भी बीजेपी की हिस्सेदारी का ही आदमी है। बीजेपी का काला मन है इसीलिए वो जबरदस्ती व्यापारी को समाजवादी से जोड़ रही है। समाजवादी का व्यापारी के इत्र से न बीजेपी के मित्र से कोई लेना देना नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here