शरद पवार और अजित के बीच ट्विटर पर वार, NCP चीफ ने दिया ये जवाब…

महाराष्ट्र में शनिवार को हुए राजनीतिक उलटफेर के बाद सरकार बनाने की जद्दोजहद में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही हैं। इसी बीच एनसीपी चीफ शरद पवार और उनके भतीजे अजित पवार के बीच ट्विटर पर घमासान जारी है।

0
1055
Sharad Pawar

महाराष्ट्र में शनिवार को हुए राजनीतिक उलटफेर के बाद सरकार बनाने की जद्दोजहद में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रही हैं। इसी बीच एनसीपी चीफ शरद पवार और उनके भतीजे अजित पवार के बीच ट्विटर पर घमासान जारी है।

अजित पवार ने रविवार को पहले ट्वीट में शरद पवार को अपना नेता बताया, साथ ही बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र को स्थिर सरकार देने का वादा किया। इस पर शरद पवार ने ट्वीट कर अजित पवार को जवाब दिया। महाराष्ट्र की लड़ाई रविवार को ट्वीटर पर लड़ी जा रही है। दोपहर बाद अचानक डिप्टी सीएम अजित पवार सक्रिय हुए और एक के बाद एक कई ट्वीट किए।

अजित पवार ने कहा कि एनसीपी और बीजेपी महाराष्ट्र को स्थिर सरकार देगी। उन्होंने कहा कि वे एनसीपी में हैं और आगे भी एनसीपी में ही रहेंगे, आगे कहा कि शरद पवार ही उनके नेता है। अजित पवार के इस ट्वीट के बाद एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने भी जवाब देते हुए कहा, बीजेपी के साथ गठबंधन करने का कोई सवाल ही पैदा नहीं होता है। शरद पवार ने कहा, अजित पवार का बयान झूठा और भ्रम फैलाने के लिए है।

बता दें कि रविवार को पहले अजित पवार ने ट्वीट कर शरद पवार को अपना नेता बताया, उन्होंने बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र को स्थिर सरकार देने का वादा किया। इससे पहले अजित पवार ने पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत बीजेपी के कई नेताओं का आभार जताया। उन्होंने कहा महाराष्ट्र में बीजेपी-एनसीपी की सरकार जनहित में काम करेगी।

अजित ने पहले ट्वीट कर कहा , ‘मैं एनसीपी में हूं और हमेशा एनसीपी में ही रहूंगा और शरद पवार साहेब हमारे नेता हैं। हमारे बीजेपी-एनसीपी गठबंधन महाराष्ट्र में अगले 5 साल के लिए स्थिर सरकार देगी, ये सरकार राज्य और लोगों के कल्याण के लिए गंभीरता से काम करेगी।

अजित ने कहा चिंता की कोई बात नहीं है, सब कुछ बढ़िया है। बस थोडे से धैर्य की जरूरत है, आपके समर्थन के लिए आप सबों का बहुत आभार।

जवाब में शरद पवार ने ट्वीट करके कहा, महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ गठबंधन करने का सवाल ही नहीं उठता है। एनसीपी ने बहुमत से शिवसेना और कांग्रेस के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाने का निर्णय लिया है। अजित पवार का बयान गलत और गुमराह करने वाला है। वो लोगों के बीच गलत धारणा पैदा कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here