अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद से दिया इस्तीफा

महाराष्ट्र के सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को बड़ा फैसला सुनाया। कोर्ट ने राज्य की देवेंद्र फडणवीस सरकार को बुधवार शाम 5 बजे तक बहुमत साबित करने आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद उपमुख्यमंत्री अजित पवार एनसीपी नेताओं से मिले। इस मुलाकात के बाद एनसीपी ने अजित पवार से इस्तीफे की मांग की है।

0
1039

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को बड़ा फैसला सुनाया। कोर्ट ने राज्य की देवेंद्र फडणवीस सरकार को बुधवार शाम 5 बजे तक बहुमत साबित करने आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद उपमुख्यमंत्री अजित पवार एनसीपी नेताओं से मिले। इस मुलाकात के बाद एनसीपी ने अजित पवार से इस्तीफे की मांग की है। वहीं, अब अजित पवार ने देवेंद्र फडणवीस की सरकार से डिप्टी सीएम के पद से इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि देवेंद्र फडणवीस की सरकार में डिप्टी सीएम बने अजित पवार ने अब तक डिप्टी सीएम का कार्यभार नहीं संभाला है। एनसीपी लगातार अजित को मनाने की कोशिश कर रही है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी एनसीपी के नेताओं ने अजित से बात की और बाद में उनसे इस्तीफे की मांग की।

ये भी पढ़ें महाराष्ट्र के सियासी संकट पर SC का बड़ा फैसला, कल ही होगा फ्लोर टेस्ट

इस्तीफे की मांग पर अजित पवार ने कहा है कि वह कुछ समय बाद इस पर अपना फैसला लेंगे। एनसीपी नेताओं ने भी कहा है कि अजित पवार बहुत जल्द फैसला लेने वाले हैं। अब देखना दिलचस्प होगा कि अजित पवार क्या फैसला लेते हैं।

सुप्रीम कोर्ट का फैसला
महाराष्ट्र के सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 30 घंटों में सीएम देवेंद्र फडणवीस को बहुमत साबित करना होगा। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद 27 नवंबर को शाम 5 बजे फ्लोर टेस्ट होगा। खास बात ये है कि फ्लोर टेस्ट का लाइव प्रसारण किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here