पिता के शव से जुड़वा बेटियां मां के सिंदूर से खेलती रहीं, हार्टअटैक से हुई थी डॉक्टर की मौत

0
57
Lakhkimpur Khiri Doctor Death

Lakhkimpur Khiri Doctor Death: यूपी के लखीमपुर खीरी के काशीनगर मोहल्ले में दो साल की जुड़वा बच्चियों के साथ खेल रहे डॉक्टर पिता की अचानक हार्ट अटैक से मौत हो गई. बच्चियों को कुछ समझ नहीं आया. मासूम कमरे में रखे अपनी मां के सिंदूर को पिता के मृत शरीर पर लगाती रहीं और उन्हें जगाती रहीं. ड्यूटी से मां लौटकर आई तो घर में कोहराम मच गया.

मौत से अनजान मासूम 

लखीमपुर खीरी से दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है. इस मार्मिक घटना में एक सरकारी डॉक्टर की हार्ट अटैक से अचानक घर में मौत (Lakhkimpur Khiri Doctor Death) हो जाती है. कमरे में मौजूद  जुड़वां बेटियों को कुछ समझ नहीं आया और दोनों ही अपने पिता के मृत शरीर पर खेलने लगती हैं. इस दौरान बच्चियां अपनी मां का रखा सिंदूर पिता के मृत शरीर पर लगाने लगती हैं. ड्यूटी से लौटी अनजान मां जब यह दिल दहला देने वाला नजारा देखती है तो घर में कोहराम मच जाता है.

घटना लखीमपुर खीरी जिले में थाना सदर कोतवाली क्षेत्र के काशीनगर मोहल्ले की है जहां पेशे से सरकारी एमबीबीएस डॉक्टर दंपत्ति राजेश मोहन गुप्ता और डॉ बीना गुप्ता एक किराए के मकान में पिछले करीब 5 साल से रह रहे थे। एमबीबीएस डॉक्टर राजेश मोहन गुप्ता शहर से करीब 3 किलोमीटर दूर बाजूडीहा गांव में तैनात थे जबकि उनकी पत्नी शहर में एक सीएचसी पर तैनात थी.

रोज की तरह वीणा गुप्ता अपने घर आती हैं, लेकिन उन्हें दरवाजा बंद मिलता है जिस पर वीना गुप्ता अपने पति को बाहर से आवाज देने लगती हैं और जोर-जोर से दरवाजा पीटने लगती है लेकिन अंदर से कोई आवाज ना आता देख वीना गुप्ता अपने मकान मालिक को ऊपर बुलाती हैं. फिर भी उनके पति राजेश मोहन गुप्ता दरवाजा नहीं खोलते हैं तब जाकर मोहल्ले वालों की मदद से कमरे का दरवाजा तोड़ा जाता है तो अंदर का दृश्य देखकर सभी हैरान हो जाते हैं।

पोस्टमॉर्टम में हुआ मौत का खुलासा, हार्टअटैक से हुई मौत 

राजेश मोहन गुप्ता की पत्नी वीणा गुप्ता बताती हैं कि जब दरवाजा तोड़ा गया तो अंदर देखा कि उनके पति बेड पर बेसुध पड़े हुए हैं और उनकी बच्चियां उनके द्वारा रखे गए सिंदूर को हाथों में लगाकर अपने पिता के शव के साथ खेल रही हैं. पत्नी वीना गुप्ता अपने पति को बचाने के लिए शोर मचाने लगती हैं और उन्हें शक हो जाता है कि उनके पति को हार्टअटैक हुआ है जिस पर उनकी पत्नी वीना अपने पति के सीने को दबाने की कोशिश करती रहती है. घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे में बेसुध पड़े डॉ राजेश मोहन गुप्ता को गाड़ी में लादकर जिला अस्पताल ले गई जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. मृतक डॉक्टर का तीन डॉक्टरों की देखरेख में पोस्टमार्टम हुआ जिसमें उनकी मौत का कारण हार्ट अटैक सामने आया है.

 

प्राइम न्यूज के लिए अशोक शुक्ला की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here