Indore News: कैसे 11वीं कक्षा की छात्रा के लिए सिगरेट बनी मौत की वजह

0
86

Indore News: हम ये तो अक्सर सुनते रहते है कि सिगरेट पीने की वजह से किसी की जान चली गई, लेकिन क्या आपने कभी ये सुना है कि सिगरेट की वजह से किसी की जान चली गई? जी हां, मध्य प्रदेश के इंदौर से एक मामला सामने आया है जिसमे एक 11वीं क्लास की स्टूडेंट ने सिगरेट के चलते आत्महत्या कर ली।

मामले की जांच शुरू

मध्य प्रदेश के इंदौर में 11वीं क्लास की एक स्टूडेंट को सिगरेट पीने की वजह से जान गंवानी (Indore News) पड़ गई। दरअसल लड़की के कोचिंग के दोस्तों ने उसे एक दिन सिगरेट पीते हुए देखा और उसकी फोटो खींच ली। उसके दोस्तों ने उसकी ये तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी। लड़की अपने दोस्तों की इस धमकी के कारण तनाव में आ गई और उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस इस पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है।

पुलिस ने दी जानकारी

पुलिस ने खुदकुशी के इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि, आत्महत्या करने वाली लड़की सिलिकॉन सिटी इलाके में रहती थी और शहर के एक नामी प्राइवेट स्कूल में पढ़ती थी। उसके पिता बच्चों के डॉक्टर हैं और मां पड़ोसी जिले बड़वानी में नर्स हैं।

पुलिस ने अपनी जांच पड़ताल के बाद जानकारी दी कि “आत्महत्या करने से पहले शनिवार को को छात्रा ने अपने पिता को सिगरेट पीने वाली बात बताई थी। उसने अपने पिता से इस बारे में जिक्र करते हुए कहा कि, उसने एक दिन कोचिंग से छूटते समय अपने दोस्तों के साथ सिगरेट पी ली थी। उसी दौरान कोचिंग में ही पढ़ने वाले 2 छात्र और एक छात्रा ने अपने मोबाइल से सिगरेट पीते हुए उसका फोटो क्लिक कर लिया था। हालांकि, उसके पिता ने अपनी बेटी को माफ कर दिया था।”

छात्रा काफी तनाव में थी- पुलिस

पुलिस ने माले में आगे जानकारी देते हुए बताया कि छात्रा को उसके दोस्तों ने फोटो वायरल करने को लेकर ब्लैकमेल भी किया था। छात्रा के दोस्तों ने ये कहकर ब्लैकमेल किया कि वो उसकी स्मोकिंग करने वाली फोटो उसके माता-पिता को भेज देंगे। छात्रा लगातार इस बात को लेकर तनाव में चल रही थी कि उसके दोस्त उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगें।

आत्महत्या के दौरान घर खाली था- पुलिस

पुलिस के मुताबिक, “सोमवार को छात्रा के माता-पिता किसी काम के चलते घर से बाहर गए थे। इस दौरान छात्रा की छोटी बहन जो 10 साल की है और उसका भाई जो 4 साल का है, वो बिल्डिंग के नीचे ही खेल रहे थे। तनाव के दौर से गुजर रही छात्रा ने इसी दौरान फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। शाम को जब माता-पिता घर वापस आए तो उन्होंने बेटी फंदे पर लटकते देखा, तब तक उनकी बेटी की जान जा चुकी थी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here