Flood in Bihar: बिहार में बाढ़ से 11 जिलों में फसलें हुई बरबाद, वहीं 16 अगस्त तक बड़ा लॉकडाउन

बिहार में बाढ़ से 11 जिलों में 4.87 हेक्टेयर में फसलों का हुआ नुकसान, किसानों को अब तक 1220 करोड़ की मदद।

0
222
Flood in Bihar
Flood in Bihar: बिहार में बाढ़ से 11 जिलों में फसलें हुई बरबाद, वहीं 16 अगस्त तक बड़ा लॉकडाउन

Bihar: बिहार में बाढ़ (Flood in Bihar) का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। सिवान और मधुबनी जिले भी अब बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। सीवान के दो और मधुबनी के चार प्रखंडों में बाढ़ (Flood in Bihar) का पानी घुस गया। इस तरह अब राज्य के 14 जिलों के 108 प्रखंडों की 972 पंचायतें बाढ़ की चपेट में आ चुकी है। इससे 40 लाख आबादी बाढ़ से प्रभावित हो गई है।

राज्य के 11 जिलों में बाढ़ से (Flood in Bihar) बेहद फसलों का नुकसान हुआ हैं। गुरुवार को कृषि विभाग के सचिव डॉ एन सरवण ने कहा है किसानों के फसल नुकसान की भरपाई के लिए सरकार ने 1220 करोड़ की रकम उनके खाते में जमा की है। कृषि सचिव ने कहा कि कृषि विभाग की योजनाओं को डिजिटल कृषि के माध्यम से लाभ दिया जा रहा हैं इसके तहत खरीफ के 5.40 लाख किसानों को अनुदानित दर पर बीज वितरण का काम किया गया है।

Bihar Flood Update: बिहार में बाढ़ से हालात नाज़ुक, भारी दबाव के बीच टूट रहे कई बांध

इसके अलावा राज्य सरकार ने फसल सहायता योजना के लिए होने वाले रजिस्ट्रेशन की तारीख भीन आगे बढ़ा दी है। सहकारिता विभाग की ओर से जारी निर्देश के अनुसार अब किसान 31 जुलाई के बदले 15 अगस्त तक अपना निबंधन करा सकेंगे।

बिहार में बाढ़ के बीच कोरोना से भी हाल बेहाल हो गया है। जिसे देखते हुए राज्य में 16 अगस्त तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। लॉकडाउन की इस अवधि में टैक्सी और ऑटो पहले की तरह चलेंगी लेकिन बस सेवा को पूरी तरह बंद रखा गया है। मालवाहक गाड़ियों के आने-जाने पर रोक नहीं होगी। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग निजी वाहनों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

केंद्र सरकार ने जारी की अनलॉक 3.0 की गाइडलाइंस, इन चीजों में मिली राहत

इसके अलावा लॉकडाउन में सिर्फ सरकारी और निजी कंपनियों को 50 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ दफ्तर खोलने की छूट दी गई है। दुकानों को भी शर्तों के साथ खोलने की इजाजत होगी। ऑनलॉक-3 के तहत केन्द्र ने छूट दी है पर बिहार में रात्रि कर्फ्यू जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here