दिल्ली में जहरीली हवा के बाद पीने का पानी बना मुसीबत, मनोज तिवारी ने बड़ा खुलासा कर केजरीवाल को घेरा

दिल्ली में फैली जहरीली हवा के बाद अब पीने का पानी लोगों के लिए मुसीबत बन गया है। विधानसभा चुनाव से पहले  बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में पीने के पानी को लेकर...

0
340
Manoj Tiwari

दिल्ली में फैली जहरीली हवा के बाद अब पीने का पानी लोगों के लिए मुसीबत बन गया है। विधानसभा चुनाव से पहले  बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में पीने के पानी को लेकर बड़ा खुलासा कर आम आदमी पार्टी वाली सरकार को निशाने पर लिया है। दरअसल भाजपा नेता मनोज तिवारी ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर आरोप लगाया कि दिल्ली जल बोर्ड लोगों को साफ पानी तक मुहैया नहीं करा पा रहा है, जिसकी वजह से दिल्ली के लोग जहरीला पानी पीने को मजबूर हैं।

मनोज तिवारी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि बीजेपी के कहने पर भारतीय मानक ब्यूरो ने पिछले महीने दिल्ली के कई स्थानों से पानी के नमूने लिए थे, पर जांच में सभी नमूने फेल हो गए, जिस पर अरविंद केजरीवाल को गुस्सा आ गया और उन्होंने (केजरीवाल) सवाल उठाते हुए कहा कि क्या सिर्फ दिल्ली के पानी की ही जांच होती है, दूसरे राज्यों की नहीं? इस पर मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हमारे कहने पर भारतीय मानक ब्यूरो ने 20 अन्य राज्यों से भी पानी के नमूने लिए थे, लेकिन रिजल्ट में दिल्ली का पानी सबसे जहरीला पाया गया।

भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि पानी के मुद्दे पर सियासत करने वाली सरकार दिल्लीवासियों को स्वच्छ जल मुहैया कराने में विफल रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास दिल्ली जल बोर्ड है, बावजूद इसके यहां के लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में बुराड़ी, अशोक नगर और नंद नगरी सहित 11 स्थानों से पानी के नमूने लिए गए थे। सभी नमूने फेल हो गए हैं। मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए सवाल पूछा कि क्या आपने ऐसे ही दिल्ली को बनाने का वादा किया था? दिल्ली में जो गंदा पानी पीने से मजबूर हैं, उनके लिए आजतक कोई ठोस कदम क्यों नहीं उठाया गया?

इतना ही नहीं, मनोज तिवारी ने दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाएं ठप होने पर भी अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर भी बड़े-बड़े दावे किए कि दिल्ली में स्वास्थ्य सेवाएं सबसे अच्छी हैं। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा है तो फिर दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल में 1 दिसंबर से ऑपरेशन थिएटर क्यों बंद हो रहे हैं, क्योंकि ऑपरेशन थिएटर में सर्जरी का सामान उपलब्ध नहीं है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उन्होंने दिल्लीवासियों से ये वादा भी किया कि जैसे बीजेपी ने महाराष्ट्र में पीने का पानी सबसे अच्छा बनाया है, वैसे ही अगले साढ़ें तीन सालों में दिल्ली की जनता को पीने योग्य पानी मुहैया कराया जाएगा।

गौरतलब है कि बीजेपी के कहने पर केंद्रीय उपभोक्ता मामले मंत्रालय के भारतीय मानक ब्यूरो (बीआईएस) द्वारा की गई पानी की गुणवत्ता जांच में दिल्ली का पानी सबसे प्रदूषित पाया गया, जिसके बाद बीजेपी ने दिल्ली सरकार पर निशाना साधा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here