JNUSU ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस, दिल्ली पुलिस पर लगाए ये गंभाीर आरोप…

जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (JNU) में हॉस्टल फीस बढ़ोतरी को लेकर प्रदर्शन जारी है। इसी बीच मंगलवार को जेएनयू छात्र संघ (JNUSU) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। छात्रों की ओर से कहा गया कि हम बीते 23 दिनों से मांग कर रहे हैं, लेकिन कोई भी हमारी बात नहीं सुन रहा है।

0
872
JNU Protest against fee hike

जवाहर लाल यूनिवर्सिटी (JNU) में हॉस्टल फीस बढ़ोतरी को लेकर प्रदर्शन जारी है। इसी बीच मंगलवार को जेएनयू छात्र संघ (JNUSU) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। छात्रों की ओर से कहा गया कि हम बीते 23 दिनों से मांग कर रहे हैं, लेकिन कोई भी हमारी बात नहीं सुन रहा है।

जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष ने आइशी घोष ने साफ तौर पर ऐलान किया है कि वो पुलिस से डरने वाले नहीं हैं,जब तक उनकी मांगे नहीं मानीं जाती वह प्रदर्शन जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि अगर इस बार संसद घेरने की जरूरत पड़ी तो वह वो भी करेंगे।

छात्रों ने आरोप लगाते हुए कहा, दिल्ली पुलिस द्वारा छात्रों पर लाठीचार्ज की गई है, यह बर्बरता है। छात्रों ने कहा कि कई छात्र जो घायल हैं, वह प्रेस कॉन्फ्रेंस का हिस्सा नहीं बन पाए हैं। प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक छात्रा ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस के पुरुष जवानों के द्वारा छात्राओं को पकड़ा जा रहा था, जो कि पूरी तरह से गलत है।

उल्लेखनीय है कि JNU के छात्र संगठन ने हॉस्टल फीस बढ़ोतरी को लेकर प्रदर्शन सोमवार को प्रदर्शन किया, जानकारी के अनुसार, छात्र जब संसद भवन की ओर जा रहे थे उस दौरान पुलिस ने छात्रों पर लाठियां बरसाईं , जिसमें कई छात्र बुरी तरह से घायल हो गए हैं।

प्रदर्शनकारी छात्रों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि छात्रों ने शांतिपूर्ण तरीके से मार्च निकाला था, लेकिन पुलिस ने बैरिकेड लगाकर उन्हें रोक दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस और CRPF ने उनके साथ मारपीट की, इतना ही नहीं आरोप तो ये भी है कि लड़कियों के साथ पुलिस ने बदसलूकी की। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि पुलिस ने घायल छात्रों को मेडिकल सहायता मुहैया नहीं करवाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here