‘म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के’-राजनांदगांव की दो बेटियों ने किया साबित

0
37

‘म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के’-दंगल फिल्म इस डायलॉग को सावित किया है छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के राजनांदगांव (Rajnandgaon) जिले की दो बेटियों ने। अपनी मेहनत और टैलेंट के बल पर दोनों लड़कियों ने भारत की अंडर-16 बास्केटबॉल टीम में स्थान बनाने में सफल रही हैं। प्रार्थना साल्वे (Prarthana Salve) और मोनी अडला जॉर्डन (Moni Adla Jordan) के अम्मान में आयोजित फीबा एशिया अंडर-16 बास्केटबॉल चैंपियनशिप में देश की टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी।

एशिया अंडर-16 बास्केटबॉल चैंपियनशिप 24 से 30 जून तक आयोजित होगा। प्रार्थना और मोनी फिलहाल भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) के राजनांदगांव ट्रेनिंग सेंटर में प्रशिक्षण पूरा कर रही हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) और खेल मंत्री उमेश पटेल (Umesh Patel) ने भारतीय टीम में चयन पर उन्हें बधाई दी है। उन्होंने चैंपियनशिप में अच्छे प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं भी दी हैं।

प्रार्थना और मोनी बचपन से ही बास्केटबॉल खेलने की शौक़ीन है और खेलती आ रही हैं। गांव में सुविधाओं की कमी को उन्होंने अपने शौक के रास्ते में कभी आड़े नहीं आने दिया। सबसे अच्छी बात यह रही कि दोनों के परिवारों ने भी इसमें उनका भरपूर साथ दिया है।

दिल्ली पब्लिक स्कूल, राजनांदगांव (Rajnandgaon) की इन दोनों छात्राओं का चयन इस साल जनवरी में इंदौर (Indore) में हुई जूनियर नेशनल बास्केटबॉल चैंपियनशिप में प्रदर्शन के आधार पर हुआ। इन दोनों खिलाड़ियों ने अम्मान में होने वाले एशियन चैंपियनशिप के लिए बेंगलुरू (Bangalore) में आयोजित भारतीय टीम के कैंप में भी हिस्सेदार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here