सीएम तीरथ सिंह रावत ने दिया इस्तीफा, अगला सीएम कौन होगा ?

सीएम रावत Tirath Singh Rawat ने 11 बजे राजभवन जाकर गर्वन र बेबी रानी मौर्य को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

0
395
Tirath Singh Rawat Resigns
सीएम रावत Tirath Singh Rawat ने 11 बजे राजभवन जाकर गर्वन र बेबी रानी मौर्य को अपना इस्तीफा सौंप दिया।

Uttarakhand: सीएम तीरथ सिंह रावत इस्तीफे (Tirath Singh Rawat Resigns) पर चल रहा बवाल खत्म हो गया। सीएम रावत ने 11 बजे राजभवन जाकर गर्वन र बेबी रानी मौर्य को अपना इस्तीफा सौंप दिया। सीएम रावत इस मुद्दे पर पूरी तरह चुप्पी साधे रखी और अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाकर चले गए। 

यूपी में नई गाइडलाइन के साथ खुलेंगे सिनेमा हॉल, जानें और क्या-क्या खुलेगा…

सीएम तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat Resigns) ने कहा कि कोरोना महामारी में काफी हद तक कमी आ गई है। इसके साथ ही ट्रांसपोर्ट थे, टूरिज्म विभाग भी था, बिजली और पानी की दिक्कतें भी देखने को मिली है। कुछ सुविधाएं जो माफ की जा सकती थीं, वो की गई है। स्वास्थय और परिवार कल्याण, महिला और बाल विकास, उर्जा परिवहन, इन विभागों में 2 हजार करोड़ की मदद की गई हैं।

संवैधानिक संकट के चलते दिया इस्तीफा

इस्तीफे को लेकर मुख्यमंत्री रावत (Tirath Singh Rawat)ने कहा कि ‘मैंने संवैधानिक संकट की वजह से राज्यपाल को इस्तीफा सौंप दिया है। मुख्यमंत्री के तौर पर सेवाएं देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा का आभार व्यक्त करता हूं।’ 

दिल्ली सरकार ने प्राइवेट स्कूलों की फीस में की 15 फीसदी की कटौती

आज बैठक में क्या हो सकता है

आज दोपहर 3 बजे प्रदेश पार्टी कार्यालय में बीजेपी विधायकों की बैठक होगी। सवाल ये उठता है कि क्या उत्तराखंड में तीरथ के चेहरे पर चुनान नहीं जीता जा सकता ? ये डर भी था कि अगर तीरथ उपचुनाव में हार गए तो बड़ा नुकसान हो सकता है। तीरथ सिंह रावत के बाद किसको सीएम पद दिया जाएगा ये तो मीटिंग के बाद ही साफ हो सकता है।

7-8 महीने का होगा नए CM का कार्यकाल

बताया जा रहा है कि बीजेपी विधायकों में से ही किसी एक को मुख्यमंत्री चुना जाएगा। राज्य में अगले साल फरवरी-मार्च महीने में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में नए मुख्यमंत्री का कार्यकाल महज 7-8 महीने का रहेगा। 

सीएम की रेस में कौन आगे ? 

सीएम पद के लिए रेस में सबसे आगे पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज चल रहे है। सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) ने उत्तराखंड के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इसके बाद उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत (Dhan Singh Rawat) का नाम आगे चल रहा हैं। धन सिंह आरएसएस कैडर से आते हैं और उत्‍तराखंड बीजेपी में संगठन मंत्री भी रह चुके हैं।

आपको बता दें कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत (Banshidhar Bhagat) भी सीएम पद के दावेदारों में शामिल हैं। उत्‍तराखंड में बनी विभिन्‍न सरकारों में मंत्री रहे हैं। 2002 के विधानसभा चुनाव में वह हल्‍दानी सीट से कांग्रेस की डॉ इंदिरा हृदयेश से चुनाव हार चुके हैं।  कयास लगाए जा रहे है कि कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) को पद दिया जा सकता है। हालांकि हरक सिंह के सीएम बनने की उम्मीद कम है।

Read More Articles on Uttarakhand News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here