सीएम योगी आज बाबा बद्रीनाथ के दौरे पर, सीएम रावत भी करेंगे शिरकत

0
128
Chardham Yatra 2020
सीएम योगी आदित्यनाथ केदरानाथ और बद्रीनाथ के 2 दिवसीय दौरे पर हैं। मुख्यमंत्री योगी और त्रिवेंद्र रावत भी होंगे शामिल।

Uttarakhand: सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) केदारनाथ और बद्रीनाथ के 2 दिवसीय दौरे (Chardham Yatra 2020) पर हैं। मुख्यमंत्री योगी और त्रिवेंद्र रावत (CM Trivendra Rawat) 16 नवंबर की सुबह 4:30 बजे से 6:30 बजे तक केदारनाथ मंदिर के कपाट बंद होने के कार्यक्रम में सम्मलित हुए। सुबह 7:30 बजे दोनों सीएम हेलीकॉप्टर से बद्रीनाथ के लिए रवाना हो गए है। साथ ही 7:45 को बद्रीनाथ हेलीपैड, चमोली में लैंड कर चुके है। फिर दोनों 08:00 बजे से 09:00 बजे तक बद्रीनाथ मंदिर में दर्शन और पूजा अर्चना की। मुख्यमंत्री योगी 10:00 बजे से 11.00 बजे तक उत्तर प्रदेश के पर्यटक आवास गृह के शिलान्यास कार्यक्रम में पहुंचेगे। दोनों सीएम 11:15 बजे देहरादून के लिए निकलेंगे, जिसके बाद देहरादून से लखनऊ के लिए रवाना होंगे। 

हिमाचल में आज येलो अलर्ट, आस-पास के कई इलाकों में भारी बारिश और बर्फबारी

केदारनाथ धाम (Chardham Yatra 2020) के कपाट बंद होने से एक दिन पहले रविवार को  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत केदारनाथ पहुंचे थे। बाबा केदार के दर्शनों के बाद दोनों नेता सांयकालीन आरती में शामिल हुए। सोमवार सुबह  बदरीनाथ के लिए रवाना हुए। वहां सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से बनाए जा रहे विश्राम गृह के भूमि पूजन कार्यक्रम में भाग लेंगे। 

रविवार को दोपहर बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) देहरादून के जौलीग्रांट हवाई अड्डे पर पहुंचे थे। यहां पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उनकी अगवानी की। इसके बाद दोनों नेता हेलीकॉप्टर से केदारनाथ (Chardham Yatra 2020) के लिए रवाना हुए। केदारनाथ पहुंचने पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने योगी आदित्यनाथ को पुनर्निर्माण कार्यों की जानकारी दी। दोनों नेताओं ने कार्यों का जायजा भी लिया। 

सीएम योगी 12 साल बाद पहुंचे केदारनाथ, सीएम रावत भी मौजूद

आपको बता दें कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) मूल रूप से उत्तराखंड के रहने वाले हैं। उनका जन्म 5 जून 1972 को पौड़ी गढ़वाल जिले के पंचूर गांव में हुआ था। साल 1994 में सांसारिक मोहमाया त्यागकर वह पूरी तरह संन्यासी बन गए, जिसके बाद अजय सिंह बिष्ट का नाम योगी आदित्यानाथ हो गया। योगी आदित्यनाथ सिर्फ 26 साल की उम्र में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर गोरखपुर सीट से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे और उसके बाद राजनीति में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। साल 2017 में वह यूपी के 22वें मुख्यमंत्री बने।  

उत्तराखंड से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Uttarakhand News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here