कोरोना से जंग में जनता पर भारी भूख,काशी में जरूरतमंद लोगों तक ऐसे पहुंच रही मदद

0
583
पुलिस कर रही काशी के लोगों की मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जारी है. काशी के लोग लॉकडाउन का समर्थन कर रहे हैं. इसी का नतीजा है कि यहां कि सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है.

देश भर में कोरोना के प्रभाव को देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन किया है. जिससे लोग घरों में रह रहे हैं… इसी तरह काशी में भी लोगों ने अपने आप को घरों में कैद किया हुआ है. लेकिन भोलेनाथ की नगरी में कई स्थानों पर मजदूर तबके के लोग हैं जिनको भोजन आदि की काफी समस्या है. हालांकि, ऐसे लोगों की मदद के लिए प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाएं हर संभव प्रयास कर रहे हैं ताकि हर एक जरूरतमंद तक जरूरी चीजें पहुंचे.

दरअसल, उत्तर प्रदेश में कोरोना से जंग के साथ अब भूख से लड़ना एक बड़ा चैलेंज है. यूपी के पर्यटन मंत्री ने भोजन की मोदी किट बांटकर जरूरतमंद लोगों को बड़ी राहत दी है। काशी को लेकर कहा जाता है कि महादेव की नगरी में कोई भूखा नहीं सोता। महादेव ने काशी के भरण के लिए स्वयं मां अन्नपूर्णा से भिक्षास्वरूप आशीर्वाद मांगा है . अब काशी में कोरोना से बचाव के लिए ठहरे लोगों के भरण के लिए प्रशासन के सहयोग से श्री काशी विश्वनाथ अन्न क्षेत्र और मां अन्नपूर्णा अन्न क्षेत्र की ओर से भोजन दिया जा रहा है.

रोजाना हजारों की संख्या में खाने के पैकेट तैयार किये जा रहे हैं . भजन के पैकेट गलियों, आश्रय स्थलों में रह रहे लोगों को पहुंचाकर उनकी मदद की जा रही है। वाराणसी में अगर किसी को कोरोना से पैदा परिस्थितियों से जूझ रहे लोगों की मदद करनी हो तो वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के साथ उस क्षेत्र के क्षेत्राधिकारी से संपर्क करके दवा और अन्य जरूरत का सामान उपलब्ध करा सकता है. ये सामान पुलिस, पब्लिक अन्नपूर्णा बैंक के माध्यम से गरीब और असहाय लोगों की मदद में काम आयेगा.

अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन के आदेश पर इस बैंक की स्थापना की गई है. वहीं, वाराणसी में थानेदार भी अपने थाना क्षेत्र में लोगों की मदद कर उन्हें राहत दे रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here