नंदगांव मंदिर में नमाज करना पड़ा था भारी, फैजल को किया रिहा

मथुरा के नंदगांव मंदिर में फैजल खान को नमाज पढ़ने को लेकर गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन अब रिहा कर दिया गया है।

0
140
Uttar Pradesh News
मथुरा के नंदगांव मंदिर में फैजल खान को नमाज पढ़ने को लेकर गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन अब रिहा कर दिया गया है।

Mathura: मथुरा के नंदगांव मंदिर में फैजल खान को नमाज पढ़ने को लेकर गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन अब रिहा कर दिया गया (Uttar Pradesh News) है। 30 अक्टूबर को मथुरा घूमने आए फैजल खान और चांद मोहम्मद ने नंदगांव मंदिर में नमाज अदा की थी। हाईकोर्ट ने पिछले दिनों उन्हें जमानत दे दी थी। जमानत मिलने के बाद जिला कारागार से आरोपी फैजल खान (Uttar Pradesh News) को आज रिहा कर दिया गया। 

कृषि कानूनों पर संग्राम जारी, सीएम ने दी बड़ी सौगात

बता दें हिरासत से रिहा होने के बाद फैजल (Faizal Khan) ने कहा कि 24 दिसंबर बेहद अच्छा दिन है। 25 दिसंबर को क्रिसमस भी है। यानी ईसा मसीह का जन्मदिन है। फैजल ने बताया कि जेल में हर शाम एक तरफ आरती और दूसरी तरफ नमाज होती है। मुझे तो लगता है हम जिनको अपराधी कहते हैं उनसे हमें धर्म और मोहब्बत करना सीखना चाहिए।

दरअसल, बीते 30 अक्टूबर को मथुरा के नंदगांव मंदिर परिसर में दो युवकों ने नमाज अदा की थी। इसके बाद 1 नवंबर को बरसाना थाने में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी। एफआईआर में अभियुक्त चांद मोहम्मद पर बिना पुजारी की अनुमति के जबरन नमाज पढ़ने और वीडियो सोशल मीडिया में वायरल करने का आरोप लगा था। साथ ही कहा था कि ऐसा हिन्दुओं की आस्था को अपमानित करने और सांप्रदायिता को बढ़ाने के लिए किया गया था। बता दें कि फैजल और चांद मोहम्मद खुदाई खिदमतगार संस्था के सदस्य थे। फैजल खान दिल्ली और चांद मोहम्मद बिहार का रहने वाला है। 

100 साल पूरे होने पर AMU के छात्रों ने पीएम से की ये मांगा

21 दिसंबर को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने फैजल खान (Faizal Khan) की जमानत मंजूर कर ली है। कोर्ट ने कहा कि वह खुदायी खिदमतगार के रूप में जाना जाता है। वह 25 सालों से सांप्रदायिक सौहार्द बनाने में जुटा है। वह मंदिर के अंदर ही नहीं गया। उसने पुजारी की सहमति से मंदिर के बाहर नमाज पढ़ी। कोर्ट ने सबूत से छेड़छाड़ न करने, गवाहों पर किसी भी तरीके का दबाव नहीं डालने को कहा है, साथ ही सोशल मीडिया में ऐसे फोटोग्राफ वायरल नहीं करने की शर्त रखी है। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here