यूपी महिला आयोग की सदस्य का विवादित बयान, कहां- लड़कियों को मोबाइल देने से बढ़ते है रेप

यूपी राज्य महिला आयोग की सदस्य ने लड़कियों के लिए विवादित बयान दिया है। जिसको लेकर जमकर हंगामा हो रहा है।

0
249
Uttar Pradesh News
यूपी राज्य महिला आयोग की सदस्य ने लड़कियों के लिए विवादित बयान दिया है। जिसको लेकर जमकर हंगामा हो रहा है।

Uttar Pradesh: यूपी राज्य महिला आयोग की सदस्य (Uttar Pradesh News) ने लड़कियों के लिए विवादित बयान दिया है। जिसको लेकर जमकर हंगामा हो रहा है। महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी (Meena Kumari) ने कहा कि ‘लड़कियों को मोबइल नहीं देना चाहिए, क्योंकि लड़कियां बिगड़ जाती है और लड़कों के साथ भाग जाती है’ लड़कियां अगर बिगड़ गई तो उसके लिए उनकी मां पूरी तरह जिम्मेदार हैं। लड़कियों को मोबाइल न दें और अगर मोबाइल दें तो उनकी पूरी मॉनिटरिंग करें। 

यूपी में समय से पहले दस्तक दे सकता है मानसून, क्या उमस का करना पड़ेगा सामना ?

मीना कुमारी (Meena Kumari) ने ये भी कहा कि माता-पिता से विशेष रूप से माताओं से अपनी बेटियों की निगरानी करने का भी आग्रह किया, क्योंकि उनके लापरवाह रवैये से महिलाओं के खिलाफ अपराध होते हैं। तो वहीं आयोग की उपाध्यक्ष अंजू चौधरी ने कुमारी के बयान को गलत बताते हुए कहा कि लड़कियों को मोबाइल फोन से वंचित करना उनके खिलाफ यौन हिंसा का समाधान नहीं है। 

पैसा डबल करने का लालच देकर 250 करोड़ रुपये की ठगी, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

सवाल ये उठता है कि क्या लड़कियों को मोबाइल देना खतरनाक हैं ? क्या एक मोबाइल लड़कियों को बिगाड़ सकता हैं ? अगर हां तो ये बात लड़कों पर भी लागू होती हैं ! 

Read More Articles on UP News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here