नाम के बीच का ‘कुमार’ मिस होना एक शख्स पड़ा भारी, जानें कैसे

यूपी के प्रयागराज में एक सरनेम गलत होने पर युवक की जिंदगी तबाह हो गई। वैसे तो कैदी को कोर्ट ने जमानत दे दी है।

0
120
Uttar Pradesh News in hindi
यूपी के प्रयागराज में एक सरनेम गलत होने पर युवक की जिंदगी तबाह हो गई। वैसे तो कैदी को कोर्ट ने जमानत दे दी है।

Prayagraj: यूपी के प्रयागराज में एक सरनेम गलत होने पर युवक की जिंदगी तबाह हो (Uttar Pradesh News in hindi) गई। वैसे तो कैदी को कोर्ट ने जमानत दे दी है। लेकिन बीच का नाम मिस होने की वजह से उसे करीब आठ महीनों तक जेल में रहना पड़ा। हाई कोर्ट ने मामले में संज्ञान लेते हुए जेल अधीक्षक को फौरन रिहाई का आदेश देते हुए पेश होने का आदेश दिया है। इसके साथ ही भविष्य में ऐसे मामले में सावधानी रखने की चेतावनी (Uttar Pradesh News in hindi) दी है। 

शादी के सात दिन बाद ही दूल्हे की हत्या, जानें क्या है मामला

बता दें हाई कोर्ट के जस्टिस जे. जे. मुनीर ने सिद्धार्थनगर के जेल अधीक्षक राकेश सिंह को पेश होकर इस बात का जवाब देने का निर्देश दिया (Uttar Pradesh News in hindi) है। सवाल ये उठता है कि आखिर प्रशासन ने इस बात पर अब तक ध्यान क्यों नही दिया। क्या आठ महीने के अंदर आवेदकों के नाम चेक नही किए गए? जानकारी के अनुसार, जब आवेदक के नामों में सुधार हो रहा था तब जाकर हाईकोर्ट को ऐप्लिकेशन भेजी गई थी। 

सामने आई अयोध्या के धन्नीपुर मस्जिद की तस्वीर, इस दिन से होगा निर्माण

कोर्ट में सुनवाई के वक्त पता चला कि छोटी सी तकनीकी गलती की वजह से एक शख्स को आठ महीने जेल में (UP News) गुजारने पड़े। दरअसल, जेल में बंद निवेदक की जमानत की अर्जी सिद्धार्थनगर के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने 4 सितंबर 2019 को खारिज कर दी थी। इसके बाद उसने इलाहाबाद हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here