योगी सरकार का बड़ा फैसला, इस दिन से खुलेंगे कॉलेज और विश्वविद्यालय

उत्तर प्रदेश में 8 महीनों से बंद स्कूल, विश्वविद्यालय और कॉलेज 23 नवंबर से फिर से खुल जाएंगे। योगी सरकार ने इसे खोलने का फैसला किया है।

0
186
UP School Colleges Reopen
योगी सरकार का बड़ा फैसला, इस दिन से खुलेंगे कॉलेज और विश्वविद्यालय

New Delhi: उत्तर प्रदेश में 8 महीनों से बंद स्कूल, विश्वविद्यालय और कॉलेज 23 नवंबर से फिर से खुल (UP School Colleges Reopen) जाएंगे। कोरोना महामारी की वजह से मार्च महीने से स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालयों में शिक्षण कार्य बंद है। लेकिन ऑनलाइन क्लासेज चल रही है। लेकिन अब योगी सरकार ने इसे खोलने का फैसला किया है। लेकिन इसके लिए सरकार ने कुछ नियम भी लागू किए है।

69000 Shikshak Bharti: शिक्षामित्रों को बड़ा झटका, SC ने खारिज की याचिका

इन नियमों के मुताबिक शिक्षण संस्थानों में छात्रों की उपस्थिति किसी भी सूरत में 50% से अधिक नहीं होगी। मतलब इन्हें 50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति के साथ ही खोला जाएगा। वहीं बाकी छात्र पहले की तरह ही ऑनलाइन क्लासेज के जरिए पढ़ाई करते रहेंगे। इसके साथ ही मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी (UP School Colleges Reopen) होगा। वहीं, कॉलेज स्टॉफ को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने का आदेश दिया गया है।

उच्च शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव मोनिका गर्ग ने मंगलवार सभी जिला मजिस्ट्रेट और विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार को आदेश जारी कर कहा हैं कि कक्षाएं जिस समय से शुरू होनी थी, वो अब उसी समय और तरीके से फिर से शुरू की जाएं। उन्होंने बताया कि मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना होगा। छात्रों को स्वस्थ्य रहना होगा। निर्देश में छात्रों से अपील करते हुए कहा गया है कि फेस कवर-मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

बच्चे हो जाए खुश, टल सकती हैं 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा!

आइए गाइडलाइंस की कुछ मुख्य बातें जानते है –

– 50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति के साथ कक्षाएं शुरू की जा सकती है।

– कैंपस और कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग, हैंड सैनिटाइजर और मास्क पहनना होगा।

–  संस्थानों को चलाने के लिए एसओपी (स्टैंडर्ज ऑपरेटिंग प्रोसिजर) का पालन किया जाएगा।

– सभी विद्यार्थियों को आयोग्य सेतु एप डाउनलोड करनी होगी।

–  बच्चे जब भी घर से बाहर निकलें तो हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन करें।

– केवल वही शैक्षणिक संस्थान खुलेंगे जो कंटेनमेंट जोन के बाहर होंगे।

– शिक्षकों को ऑनलाइन शिक्षण के लिए छात्रों को प्रोत्साहित करना होगा।

– दो छात्रों के बीच छह फीट की दूरी होना अनिवार्य है।

– विश्वविद्यालयों को हेल्थ प्रोटोकॉल के साथ हॉस्टल खोलने की इजाजत होगी।

– कोरोना लक्षण वाले छात्रों को हॉस्टल में ठहरने की इजाजत नहीं होगी।

– विभिन्न जगहों से आ रहे विद्यार्थियों को 14 दिन क्वारंटीन में रखा जाएगा।

एजुकेशन से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Education News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here