कोरोना वायरस के कारण यूपी सरकार की कैबिनेट मंत्री का निधन

सीएमएस डॉक्टर अमित अग्रवाल ने बताया कि उन्हें सीवियर कोविड-19 निमोनिया हो गया था। इस वजह से वह एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम में चली गई थी।

0
373
Kamal Rani Varun
कोरोना वायरस के कारण उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री का निधन

Lucknow: उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) में कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण (Cabinet Minister Kamal Rani Varun)  का रविवार को निधन हो गया। कमल रानी (Kamal Rani Varun) कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण के कारण लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती थी। एसजीपीजीआई के सीएमएस डॉक्टर अमित अग्रवाल ने निधन की पुष्टि की है। मंत्री कमल रानी वरुण के निधन की सूचना के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने आज का अपना अयोध्या दौरा स्थगति कर दिया है। योगी सरकार (Yogi Government) में कमल रानी वरुण प्राविधिक शिक्षा मंत्री के पद पर थी। और वो कानपुर के घाटमपुर से विधायक हैं। सीएम योगी और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मोर्य ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजली दी।

रक्षाबंधन के मौके पर सीएम योगी का प्रदेश की बहनों को तोहफा

सीएमएस डॉक्टर अमित अग्रवाल ने बताया कि उन्हें (Kamal Rani Varun) सीवियर कोविड-19 (Covid19) निमोनिया हो गया था। इस वजह से वह एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम में चली गई थी। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने का भरसक प्रयास किया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना के लिए निर्धारित रेमडेसिविर समेत अन्य निर्धारित दवाएं उन्हें लगातार दी जा रही थी, लेकिन सुधार नहीं हो रहा था। साथ ही मंत्री कमलरानी को पहले से ही डायबिटीज, हाइपरटेंशन व थायराइड से जुड़ी समस्या थी। उनका ऑक्सीजन लेवल काफी कम हो गया था। हालांकि शुरुआत के 10 दिनों में उनकी तबीयत स्थिर रही, लेकिन पिछले 3 दिनों से अचानक स्थिति खराब होने लगी।

राज्यसभा सांसद अमर सिंह का सिंगापुर में निधन

बीती शाम 6 बजे के करीब उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई और उन्हें बड़े वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया। लेकिन रविवार सुबह करीब 9 बजे उनका निधन हो गया। 18 जुलाई को शाम 5:24 बजे से ही उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। तब से वह लगातार ऑक्सीजन और छोटे वेंटीलेटर के सपोर्ट पर थी। कोरोना वायरस संदिग्ध होने पर 17 जुलाई को उनका सैंपल लिया गया था। 18 जुलाई को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें लखनऊ के पीजीआइ अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आपको बता दें कि मंत्री की बेटी भी कोरोना पॉजिटिव थी। और वो ठीक हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here