योगी सरकार का बड़ा फैसला, BJP कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमे होंगे वापस

बीजेपी कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने जा रही हैं। ये मुकदमें सपा और बसपा सरकारों में दर्ज किए गए थे।

0
333
UP Assembly Election 2022
बीजेपी कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने जा रही हैं। ये मुकदमें सपा और बसपा सरकारों में दर्ज किए गए थे।

Uttar Pradesh: यूपी सरकार मिशन 2022 (UP Assembly Election 2022) की तैयारियों में जुट गई है। राज्यभर में बैठकों का दौर भी जारी है। इस बीच अब बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने जा रही हैं। ये मुकदमें पूर्वी की सपा और बसपा सरकारों में दर्ज किए गए थे। 

आज सीएम योगी करेंगे अहम बैठक, कई विभागों के प्रस्तावों को मिलेगी मंजूरी

बता दें सपा और बसपा शासन में दर्ज 5000 से अधिक मुकदमें वापस लिए जाएंगे। जुलाई तक बाकी केस वापस लेने को कहा गया है। बीएल संतोष के साथ बैठक में कई पार्टी के बड़े पदाधिकारियों ने ये मुद्दा उठाया (UP Assembly Election 2022) था, जि‍सके बाद ये फैसला लिया गया है। 

लखनऊ की प्रियंका सेन बनी ‘फातिमा मुहम्मद फारूख’, जानें क्या है पूरा मामला

5000 मुकदमे पहले ही वापस किए गए है

योगी सरकार बनने के बाद से लगभग 5000 से ज्यादा मुकदमे वापस लिए गए हैं। जिनमे सीएम डिप्टी सीएम और मंत्रियों के खिलाफ दर्ज मुकदमे भी शामिल हैं। पंचायत चुनाव में कई जिलों में खराब प्रदर्शन में इसके संकेत भी पार्टी को मिल गए है। इसलिए आलाकमान को लगता है कि कार्यकर्ताओ की नाराजगी दूर करनी होगी। सपा और बसपा की सरकारों के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, गन्ना मंत्री सुरेश राणा, श्रण कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला पर भी मुकदमे दर्ज कराए गए थे। 

Read More Articles on UP News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here