हाथरस केस में बड़ा खुलासा, फर्जी रिश्तेदार बनकर पीड़ित परिवार के साथ रह रही थी महिला

हाथरस मामले में जांच में सामने आया है कि एक महिला खुद को पीड़ित परिवार की रिश्तेदार बता रही थी। पुलिस का दावा है कि वे पीड़ित परिवार को धोखा दे रही थी।

0
267
Fake Relative
हाथरस केस में बड़ा खुलासा, फर्जी रिश्तेदार बनकर पीड़ित परिवार के साथ रह रही थी महिला

Uttar pradesh: उत्तर प्रदेश के हाथरस (Hathras Case) मामले में जांच जारी है। सीएम योगी ने इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का ऐलान कर दिया है, लेकिन अभी भी एसआईटी की टीम इस मामले की जांच में लगी हुई है। इस बीच, तफ्तीश में पता चला है कि पीड़िता के गांव में फर्जी रिश्तेदारों (Fake Relative) ने डेरा डाला हुआ था। अपने आप को रिश्तेदार बता रही महिला का सच सामने आ गया है।

हाथरस की एक और बेटी से रेप, 6 साल की मासूम की इलाज के दौरान मौत

जांच में सामने आया है कि एक महिला खुद को पीड़ित परिवार की रिश्तेदार (Fake Relative) बता रही थी। पुलिस का दावा है कि वे पीड़ित परिवार को धोखा दे रही थी। केवल दलित होने के नाते परिवार के लोगों को भरोसे में लेकर पिछले कई दिनों से पीड़ित परिवार के यहां महिला रही थी। और वह लगातार पीड़ित परिवार को धोखा दे रही थी। महिला ने खुद को जबलपुर मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर बताया।

पुलिस के मुताबिक, यह महिला पीड़ित परिवार को लगातार इस बात पर निर्देशित कर रही थी कि मीडिया में क्या कहा जाए। जैसे ही पुलिस को शक हुआ, महिला चुपचाप घर से निकल गई। जांच में महिला खुद का नाम राजकुमारी बता रही है। मामले की जांच कर रही एसआईटी की टीम ने शुक्रवार को पीड़ित परिवार से पूछताछ की। इससे पहले गुरुवार को एसआईटी ने गांव के करीब 40-45 लोगों के बयान दर्ज किए।

हाथरस में भारी हंगामा, पुलिस ने सपा कार्यकर्ताओं पर भांजी लाठियां

जांच के लिए एसआईटी का दस दिन का समय बढ़ने के बाद एसआईटी जानकारियां जुटाने में लगी हुई है। इससे पहले भी एसआईटी निलंबित एसपी व सीओ से भी पूछताछ कर चुकी है। इसके साथ यहां पर माहौल भड़काने वाली पोस्ट डालने वालों की तलाश की जा रही है। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक विदेशी फंडिंग के साथ नक्सली कनेक्शन पर यूपी पुलिस व एसआईटी टीम काम कर रही है।


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here