आज माघ मेला का पहला स्नान, संक्रमित हुए तो नो एंट्री

संगम नगरी में आज माघ मेले की शुरुआत होगी। इसमें लाखों श्रद्धालु संगम तट पर आस्था की डुबकी लगाएंगे।

0
129
Prayagraj Magh Mela 2021
संगम नगरी में आज माघ मेले की शुरुआत होगी। इसमें लाखों श्रद्धालु संगम तट पर आस्था की डुबकी लगाएंगे।

Uttar Pradesh: कोरोना वायरस के बीच संगम नगरी में आज माघ मेले (Prayagraj Magh Mela 2021) की शुरुआत होगी। इसमें लाखों श्रद्धालु संगम तट पर आस्था की डुबकी लगाएंगे। इस बार मेले में हर श्रद्धालु को अपनी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट लानी होगी। घाटों पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ स्नान की व्यवस्था की गई है। इस बार ग्रहों और नक्षत्रों का विशेष संयोग मकर संक्रांति और मेले को ख़ासा फलदायक बना रहा है तो वहीं दूसरी तरफ श्रद्धालुओं (Prayagraj Magh Mela 2021) को कोरोना के संक्रमण से बचाने की बड़ी चुनौती भी है। 

Special Marriage Act के तहत अब जल्द होगी शादी, जानिए डिटेल

कोरोना की लानी होगी रिपोर्ट-

माघ मेले (Prayagraj Magh Mela 2021) में सिर्फ उन्हीं लोगों को एंट्री मिलेगी जिनकी रिपोर्ट नेगेटिव है। ये जानकारी मुख्य सचिव की ओर से पेश किए गए निर्देशों के जरिए अदालत को उस समय दी गई, जब कोविड-19 से जुड़ी एक जनहित याचिका पर सुनवाई हो रही थी। अदालत ने कहा कि, ‘सरकार ये बात ध्यान में रखे कि माघ के महीने में इस तरह का समागम विशाल स्तर पर होता है और अगर एक भी संक्रमित व्यक्ति इस शहर में प्रवेश करता है तो वह भारत को दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा’।

बता दें माघ मेले (Uttar Pradesh News) के 5 क्षेत्रों में शिविर लगाए गए हैं। भक्तों की संख्या को सीमित कर दिया गया हैं। कोविड के लिए सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करने में जिला प्रशासन की मदद करने और सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए अहम कदम उठाया गया है। स्वामी विनायक बाबा ने कहा, “मैंने सिर्फ 200 अनुयायियों को शिविर में रहने की अनुमति दी है। 

इस दिन यूपी का बजट पेश कर सकती है योगी सरकार…

सोशल डिस्टेंसिंग (Uttar Pradesh News) का सख्ती से पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है। जबकि पहले शिविर में करीब 2000 अनुयायी रहा करते थे। हमने सैनिटाइटर और मास्क के लिए एक विशेष काउंटर भी बनाया है। एक टीम भी बनाई है जो यहां आने वाले श्रद्धालुओं और यात्रियों की थर्मल स्कैनर से स्क्रीनिंग करेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि वे मास्क पहनें और सैनिटाइटर का उपयोग कर रहे है या नहीं। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here