ऑक्सीजन की कमी को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कही बड़ी बात

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लखनऊ और मेरठ के जिलाधिकारियों को आदेश दिया है कि वे 48 घंटे में जांच Oxygen Cylinder की जाए।

0
100
Oxygen Cylinder Crises
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लखनऊ और मेरठ के जिलाधिकारियों को आदेश दिया है कि वे 48 घंटे में जांच Oxygen Cylinder की जाए।

Uttar Pradesh: ऑक्सीजन (Oxygen Cylinder Crises) की कमी की वजह से इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लखनऊ और मेरठ के जिलाधिकारियों को आदेश दिया है कि वे 48 घंटे में जांच की जाए। अदालत ने दोनों जिलाधिकारियों से कहा है कि वे मामले की अगली सुनवाई पर अपनी जांच रिपोर्ट पेश करें और अदालत में ऑनलाइन उपस्थित रहें। 

यूपी में महंगी हुई शराब, जानें किस ब्रांड के कितने दाम

बता दें हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने इसे आपराधिक कृत्य बताया है। कोर्ट ने कहा कि ये सब नरसंहार से कम नहीं है। जिन लोगों के जिम्मे ऑक्सीजन की खरीद और सप्लाई का जिम्मा था, वे इसे ठीक से न करके आपराध कर रहे है। 

मरीजों की मदद के लिए आगे आई पुलिस, जानिए कैसे की सहायता

7 मई को होगी अलगी सुनवाई

सरकार ने कोर्ट (Allahabad High Court) को 2 दिन बढ़ाए गए वीकेंड कर्फ्यू की भी जानकारी दी। कोर्ट ने जस्टिस वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव की कोरोना से निधन पर हलफनामे की मांग की है। एडिशनल एडवोकेट जनरल से उन्हें दिए गए इलाज को लेकर हलफनामे में जानकारी मांगी है। 7 मई को सुबह 11 बजे मामले की अगली सुनवाई होगी। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here