कृषि कानूनों पर संग्राम जारी, सीएम ने दी बड़ी सौगात

कृषि कानून को लेकर सरकार और किसानों के बीच बातचीत का सिलसिला जारी है। लेकिन अब तक कोई समाधान होता नजर नही आ रहा।

0
326
Kisan Diwas 2020
कृषि कानून को लेकर सरकार और किसानों के बीच बातचीत का सिलसिला जारी है। लेकिन अब तक कोई समाधान होता नजर नही आ रहा।

Uttar Pradesh: कृषि कानून को लेकर सरकार और किसानों के बीच बातचीत का सिलसिला जारी (Kisan Diwas 2020) है। लेकिन अब तक कोई समाधान होता नजर नही आ रहा। किसान संगठनों ने मंगलवार को सरकार की बातचीत की थी और आज भी सरकार की ओर से प्रस्ताव भेजा गया है। साथ ही जवाब भी मांगा है। हालांकि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि किसान संगठन (Kisan Diwas 2020) सरकार से बात करने को तैयार हैं या नहीं। 

100 साल पूरे होने पर AMU के छात्रों ने पीएम से की ये मांगा

आपको बता दें 24 दिसंबर को राहुल गांधी की अगुवाई में पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को दो करोड़ हस्ताक्षरों के साथ ज्ञापन सौंपेंगे जिसमें कृषि कानूनों (Farmers Bill 2020) को खत्म करने की मांग की जाएगी। पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने एक बयान देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने पहले ‘कृषि विरोधी कानून’ बनाकर किसानों को दुख दिया और अब उसके मंत्री अन्नदाताओं का अपमान कर रहे हैं। 

एक हफ्ते में दिल्ली आ रही कोरोना वैक्सीन, इस अस्पताल में पहुंचाए गए डीप फ्रीजर

एक तरफ चिल्ला बॉर्डर पर किसानों का विरोध जारी (Farmers Bill 2020) हैं। तो वहीं दूसरी तरफ आज किसान दिवस भी मनाया जा रहा है। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसानों को 11 ट्रेक्टरों की सौगात दी हैं। सीएम योगी ने कहा कि यूपी सरकार किसानों के साथ हैं। ”देश के विकास के लिए हमारे किसान अहम भूमिका निभाते है”। साथ ही कहा कि समय-समय पर किसानों के खाते में पैसे डाले जा रहे हैं। अहम बात ये है कि कृषि विश्विधालय पर नए-नए शोध किए जा रहे हैं। हम काफी समय से किसानों के हित के लिए काम कर रहे हैं। जो किसान कानून का विरोध कर रहे है उन्हें गुमराह किया जा रहा है। कृषि कानून किसानों के भले के लिए ही बनाया गया हैं।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here