कमलेश तिवारी हत्याकांड में बड़ा खुलासा, 15 बार किए चाकुओं से वार, फिर मारी गोली

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से सामने आया है कि कमलेश तिवारी पर 15 बार चाकुओं से हमला किया गया। हैरानी की बात ये है कि कमलेश पर ये सभी वार जबड़े और छाती पर ही किए गए हैं और फिर गला रेतकर हत्या कर दी गई। इसके बाद चेहरे पर गोली मारी गई।

0
980

नई दिल्ली: हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से सामने आया है कि कमलेश तिवारी पर 15 बार चाकुओं से हमला किया गया। हैरानी की बात ये है कि कमलेश पर ये सभी वार जबड़े और छाती पर ही किए गए हैं और फिर गला रेतकर हत्या कर दी गई। इसके बाद चेहरे पर गोली मारी गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि कमलेश तिवारी की हत्या बहुत बेरहमी से की गई। जब हत्यारों का मन चाकुओं के वार से भी नहीं भरा तब उन्होंने चेहरे पर एक गोली भी मारी। कमलेश तिवारी के सिर के पिछले हिस्से में 32 बोर की गोली फंसी हुई मिली है।

गिरफ्तार हुए आरोपी

बता दें कि गुजरात आतंकवाद-रोधी दस्ता (एटीएस) ने कमलेश तिवारी हत्याकांड के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों की पहचान अशफाक जाकिर हुसैन शेख (34) और मोइनुद्दीन खुर्शीद पठान (27) के रूप में की गई है। ये दोनों राजस्थान से गुजरात जा रहे थे, तब इनको गिरफ्तार कर लिया गया। ये दोनों ही सूरत के शामलजी के रहने वाले हैं।

ये है हत्या का कारण

गुजरात एटीएस का कहना है कि शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपियों ने कमलेश तिवारी के आपत्तिजनक बयान से बौखलाकर इस हत्या को अंजाम दिया है। दोनों के परिवार के सदस्यों से पूछताछ की गई उसके बाद तकनीकी व फिजिकल सर्विलांस के आधार पर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here