Loni viral video: राहुल, ओवैसी और स्‍वरा भास्‍कर पर हो NSA- नंदकिशोर गुर्जर

बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी, असदुद्दीन ओवैसी और स्वरा भास्कर पर रासुका के तहत कार्रवाई हो।

0
406
Ghaziabad Old Man Beaten
बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी, असदुद्दीन ओवैसी और स्वरा भास्कर पर रासुका के तहत कार्रवाई हो।

Uttar Pradesh: गाजियाबाद में बुजुर्ग की मारपीट (Ghaziabad Old Man Beaten) का मामला राजनीतिक तूल पकड़ रहा है। इस बीच बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी, असदुद्दीन ओवैसी और स्वरा भास्कर पर रासुका के तहत कार्रवाई करने की मांग की है। विधायक नंदकिशोर ने ऐसा क्यों कहा तो हम आपको तीनों के ट्वीट की हुई बातें बताते हैं। 

गाजियाबाद में बुजुर्ग की पिटाई को लेकर हुआ खुलासा, क्या झूठ है ‘जय श्रीराम’ वाला एंगल

राहुल गांधी ने किया ट्वीट

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा था, ‘’मैं ये मानने को तैयार नहीं हूं कि श्रीराम के सच्चे भक्त ऐसा कर सकते हैं। ऐसी क्रूरता मानवता से कोसों दूर है और समाज और धर्म दोनों के लिए शर्मनाक है।’’ बता दें राहुल गांधी के ट्वीट के बाद सीएम योगी ने पलटवार करते हुए कहा कि ‘’प्रभु श्री राम की पहली सीख है-“सत्य बोलना” जो आपने कभी जीवन में किया नहीं। शर्म आनी चाहिए कि पुलिस द्वारा सच्चाई बताने के बाद भी आप समाज में जहर फैलाने में लगे हैं। उत्तर प्रदेश की जनता को अपमानित करना, उन्हें बदनाम करना छोड़ दें।’’ 

असदुद्दीन ओवैसी ने ये कहा

एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मानवाधिकार आयोग से सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी। ओवैसी ने कहा था ये लोग बार-बार मुसलमानों की दाढ़ी को निशाना बनाते हैं। इन लोगों को शायद खुद पर विश्वास नहीं है। ये लोग मुसलमानों की तरफ से अपने धर्म के प्रति ईर्ष्या करते हैं।

गाजियाबाद मामले में स्वरा ने क्या कहा

एक्टर स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) इस तहर के मुद्दों पर अक्सर अपना बयान देती रहतीं हैं और कई बार सोशल मीडिया पर आवाज बुलंद करती रहतीं हैं। इस बार भी स्वरा ने यहीं किया, स्वरा भास्कर ने कहा कि ‘आर डब्ल्यू और संघी लगातार मेरी टाइमलाइन पर उल्टी कर रहे हैं, क्योंकि गाजियाबाद पुलिस ने तीन मुस्लिम लोगों का नाम लिया है लेकिन मुख्य आरोपी परवेश गुर्जर है। वह बुजुर्ग आदमी को ‘जय श्री राम’ बोलने के लिए  मजबूर कर रहा है। 

Delhi AIIMS: बिल्डिंग के नौवें मंजिल में लगी आग, किसी बड़े नुकसान की खबर नहीं

क्या है पूरा मामला

आपको बता दें बुजुर्ग की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल (Video Viral) हुआ था। वीडियो में दावा किया गया कि कुछ युवकों ने एक मुस्लिम बुजुर्ग अब्दुल समद की जबरन पिटाई की और उससे जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाए। साथ ही उसकी दाढ़ी काट दी, हालांकि मामले की जांच के बाद वायरल वीडियो की सच्चाई कुछ और निकली, बुजुर्ग अब्दुल समद ताबीज का काम करता है। जिसकी वजह से परवेश गुर्जर ने अपने रिलेटिव के लिए खरीदा था। लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ, जो बाद में मारपीट की वजह से बन गया।

पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज

पुलिस ने नौ लोगों के खिलाफ केसदर्ज किया है। 14 जून को दो आरोपी आदिल और कुल्लू को गिरफ्तार किया था। इन लोगों पर बुजुर्ग से मारपीट और फर्जी वीडियो को सोशल मीडिया पर अपलोड करके धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप लगे हैं। पुलिस ने 153, 153A, 295A, 505, 120B और सेक्शन 34 में मुकदमा दर्ज किया है। 

Read More Articles on UP News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here