फर्रुखाबाद में बच्चों को बंधक बनाने वाले सिरफिरे सुभाष की बेटी बनेगी IPS !

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद के मोहम्मदाबाद करथिया गांव में बच्चों को बंधक बनाने वाले बहुचर्चित मामला एक बार फिर सुर्खियों में है। दरअसल, सिरफिरे सुभाष बाथम की करतूत से जहां उसका बुरा अंत हुआ, वहीं उसकी पत्नी को भी अपने पति के कृत्यों का फल भोगना पड़ा।

0
976
फर्रुखाबाद प्रकरण

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद के मोहम्मदाबाद करथिया गांव में बच्चों को बंधक बनाने वाले बहुचर्चित मामला एक बार फिर सुर्खियों में है। दरअसल, सिरफिरे सुभाष बाथम की करतूत से जहां उसका बुरा अंत हुआ, वहीं उसकी पत्नी को भी अपने पति के कृत्यों का फल भोगना पड़ा।

गांव के आक्रोशित लोगों ने सुभाष की पत्नी को पीटपीटकर मौत के घाट उतार दिया। इतना ही नहीं एक खूंखार अपराधी के कर्मों के चलते उसकी एक वर्षीय पुत्री गौरी के सिर का साया उठ गया। हालांकि, सुभाष की बेटी को लेकर अच्छी खबर आई है।

बता दें कि सुभाष के एनकाउंटर और उसकी पत्नी की मॉबलिंचिंग में मौत के बाद पुलिस ने सराहनीय कदम उठाया है। दरअसल, माता- पिता भले ही अपनी बेटी गौरी को परवरिश के अच्छे पंख ना दे पाते, लेकिन अब पुलिस ने उसको बड़ा अफसर बनाने की ठानी है। आईजी के हवाले से खबर है कि उनका प्रयास होगा सुभाष की बेटी गौरी को बेहतर परवरिश देकर आईपीएस बनाया जाये, जिससे वह अपराधियों का सफाया कर सके।

मोहम्मदाबाद के करथिया गांव पहुंचे आईजी कानपुर जोन मोहित अग्रवाल ने बताया, सुभाष बाथम और उसकी पत्नी रूबी की करथिया गाँव में पुलिस मुठभेड़ के दौरान मौत होने के बाद उनकी 1 वर्षीय पुत्री गौरी की परवरिश का जिम्मा उन्होंने लिया है। अब पुलिस की देखरेख में उसकी परवरिश होगी, उन्होंने कहा घटना के पीछे गौरी का कोई दोष नही था उसे पढ़ने लायक होने पर किसी होस्टल में भर्ती किया जाएगा।

आईजी ने बताया की गौरी की पढ़ाई कराने के बाद प्रयास होगा वह आईपीएस अफसर बने और अपराधियों को सबक सिखाकर समाज की सेवा करे। उन्होंने एसपी डॉ० अनिल कुमार मिश्रा आदि के साथ सुभाष के घर जाकर भी मुआयना किया।

अंजली समेत कई ग्रामीणों को किया गया सम्मानित-

आईजी मोहित अग्रवाल ने कोतवाली मोहम्मदाबाद पंहुचकर घटना के समय अपनी बहादुरी का परिचय देने वाली अंजली को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इसके साथ ही उन्होंने अंशुल दुबे पुत्र जय प्रकाश दुबे निवासी आजाद नगर मोहम्मदाबाद, विकास पुत्र रामनारायण सक्सेना निवासी राजीव नगर, प्रियांजल दुबे पुत्र विमलेश किशोर निवासी राजीव नगर, दीपू गुप्ता पुत्र रावेन्द्र गुप्ता निवासी आजाद नगर, सचिन सैनी पुत्र शेखर सैनी निवासी आजाद नगर को भी सम्मानित किया।

आईजी ने फ़िलहाल गौरी की परवरिश के लिए मोहम्दाबाद कोतवाली की महिला कांस्टेबल रजनी की तैनाती की है। उन्होंने बताया कि गौरी की देखभाल के लिए रजनी को 10 हजार रूपये मासिक अलग से विभाग के द्वारा मिलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here