आज हड़ताल पर रहेंगे निजी अस्पतालों के डॉक्टर, जानें क्या है वजह

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने 11 दिसंबर यानी आज आंदोलन करने का ऐलान किया है। इसका असर लखनऊ में भी देखने को मिलेगा।

0
180
Doctors Strike in UP
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने 11 दिसंबर यानी आज आंदोलन करने का ऐलान किया है। इसका असर लखनऊ में भी देखने को मिलेगा।

Lucknow: भारत सरकार की तरफ से चिकित्सकों को सर्जरी करने की मंजूरी देने के विरोध इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने 11 दिसंबर यानी आज आंदोलन करने का ऐलान (Doctors Strike in UP) किया है। इसका असर लखनऊ में भी देखने को मिलेगा। जिले के एलोपैथी डॉक्टर सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक हड़ताल पर रहेंगे। तकरीबन 150 नर्सिंग होम में रूटीन की ओपीडी, सर्जरी और लैब का काम पूरी तरह से बंद कर (Doctors Strike in UP) दिया गया है। 

इस राज्य में 14 दिसंबर से खुलेंगे स्कूल, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिए निर्देश

हड़ताल के समय सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं और कोविड की चिकित्सा सुविधाएं ही जारी रहेंगी। सभी डॉक्टर सरकार के इस निर्णय के खिलाफ पूरे दिन आंदोलन (Doctors Strike in UP) करेंगे। आईएमए के डॉक्टरों की इस हड़ताल से मरीजों को चिकित्सा सेवाएं न मिलने से परेशानी उठानी पड़ सकती है। गुरुवार को प्रेसवार्ता में आईएमए के प्रेसिडेंट डॉ. अरुण गोयल, सेक्रेटरी रजत मिमानी व स्पोक्सपर्सन डॉ. रंजना ने कहा कि आयुष चिकित्सकों को सर्जरी की अनुमति देना सरकार का गलत कदम है।

बता दें निजी अस्पताल में इलाज के लिए न जाएं। प्राइवेट अस्पतालों के डाक्टर आज हड़ताल पर (Uttar Pradesh News) रहेंगे। इस दौरान ओपीडी और दूसरी सामान्य सेवाएं बंद रहेंगी, सिर्फ  इमरजेंसी और कोविड सेवाएं चलेंगी, लेकिन रुटीन ऑपरेशन टल दिए गए है। दरअसल, राजधानी लखनऊ में करीब 1500 निजी डॉक्टर हैं जो आईएमए के साथ जुड़े हुए हैं। यह सभी डॉक्टर अलग-अलग प्राइवेट अस्पतालों, क्लीनिक, पैथोलॉजी और डायग्नोस्टिक सेंटर पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। ये डॉक्टर रोजाना करीब पचास हजार मरीजों को चिकित्सीय सेवाएं देते हैं। हड़ताल के चलते मरीजों को इनकी चिकित्सा सेवाएं नहीं मिल सकेंगी। 

पश्चिम बंगाल में जेपी नड्डा की सुरक्षा में चूक, का​फिले पर TMC का हमला

आईएमए के पदाधिकारियों ने कहा कि इस हड़ताल के दौरान सिर्फ इमरजेंसी सेवाएं (Uttar Pradesh News) चलेंगी। आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. पीके गुप्ता ने बताया कि इस दौरान कोविड के इलाज में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी हालांकि, सामान्य मरीजों की भर्ती और ओपीडी सेवाएं बंद कर दी गई हैं। 

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here