अपनी स्कूटी से घर-घर ऑक्सीजन पहुंचा रही ‘सिलेंडर वाली बिटिया’, जानिए पूरा मामला

शाहजहांपुर की एक बेटी के कठिन प्रयासों ने न केवल अपने पिता के लिए ऑक्सीजन का प्रबंध किया बल्कि अब वह आम लोगों की भी मदद कर रही है

0
150
Cylinder Waali Bitiya

Uttar Pradesh: देश में कोरोना महामारी के बीच ऑक्सीजन की कमी को लेकर कई लोगों ने अपने परिवार वालों को खोया है। वहीं कई लोगों को काफी ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ा। इस बीच अपने पिता को बचाने के लिए शाहजहांपुर की एक बेटी अपने कठिन प्रयासों से न केवल पिता के लिए ऑक्सीजन का प्रबंध किया बल्कि अब वह आम लोगों के लिए भी मदद कर रही है और लोग उसे ‘सिलेंडर वाली बिटिया’ (Cylinder Waali Bitiya) के नाम से जानने लगे हैं।

यूपी में 20 मई से शुरू होंगी इन कक्षाओं की ऑनलाइन क्लासेस

दरअसल यूपी के शाहजहांपुर की रहने वाली 26 साल अर्शी अपनी स्कूटी पर ऑक्सीजन सिलेंडर (Cylinder Waali Bitiya) रखकर कोविड के मरीजों के घर पर पहुंचाती है। अर्शी के पिता रमजान के पहले दिन कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। अर्शी ने बताया कि वह कई जगह गई लेकिन उसे ऑक्सीजन नहीं मिल पाई। बाद में एक व्हाट्सएप ग्रुप से उत्तराखंड की एक समाजसेवी संस्था ने उसकी मदद की जिससे उसके पिता की जान बच गई।

नाराज परिजनों ने डॉक्टरों पर किया हमला, जमकर की तोड़फोड़

इसके बाद अर्शी ने लोगों की मदद करना शुरू किया। अर्शी ने बताया कि उसने दो खाली सिलेंडर की व्यवस्था की और शाहाबाद, हरदोई, उत्तराखंड और शहर से उसने ऑक्सीजन रिफिल कराकर लोगों के घरों तक पहुंचाई। बता दें कि अर्शी अब तक करीब 20 ऑक्सीजन सिलेंडर लोगों के घर तक पहुंचा चुकी है और इसके लिए वह कोई चार्ज नहीं लेती है और ये काम वह अकेले नहीं कर रही है। उसकी मदद उसके दो भाई कर रहे है वहीं व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े कुछ लोग।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here