योगी सरकार ने बढ़ाई वैक्सीनेशन सेंटर की संख्या, घर-घर भेजी जाएंगी बुलावा पर्ची… क्विक रिस्पॉन्स टीम रहेंगी एक्टिव

सीएम योगी आदित्यनाथ ने 31 अगस्त तक 10 करोड़ टीकाकरण की डोज दिए जाने का लक्ष्य किया निर्धारित

0
284
Corona Vaccination
योगी सरकार ने बढ़ाई वैक्सीनेशन सेंटर की संख्या, घर-घर भेजी जाएंगी बुलावा पर्ची... क्विक रिस्पॉन्स टीम रहेंगी एक्टिव

Uttar Pradesh: दुनिया के सबसे बड़े निशुल्क टीकाकरण (Corona Vaccination) अभियान की शुरुवात सोमवार से होने जा रही है। यूपी में भी इस महाअभियान के तहत सभी तैयारियां पूरी करते हुए हर दिन सात लाख टीकाकरण की डोज देने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। वहीं जुलाई महीने में टीकाकरण अभियान को रफ्तार देते हुए सीएम योगी (CM Yogi) ने आला अधिकारियों को 1 जुलाई से हर दिन 12 लाख वैक्सीन की डोज दिए जाने की व्यवस्था को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

Also Read: CM Yogi के UP मॉडल से प्रदेश में तेजी से घट रहे Corona केस, कर्फ्यू में मिलेगी छूट

बता दें कि सीएम योगी ने शुरूआत से ही कोरोना महामारी से निपटने के लिए टीकाकरण अभियान पर विशेष जोर दिया हैं। जिसके तहत सीएम ने मिशन जून टीकाकरण अभियान के जरिए एक महीने में प्रदेश में 1 करोड़ वैक्सीन की डोज देने का लक्ष्‍य निर्धारित किया था। इस लक्ष्‍य का आधा हिस्‍सा योगी सरकार ने महज 14 दिनों के अंदर ही हासिल कर लिया। इस मिशन जून के लक्ष्य को पूरा करने के लिए प्रदेस में हर दिन 4 लाख 50 हजार से ज्याद टीकाकरण की डोज लगाई जा रही थी।

पीएम के निशुल्क टीकाकरण महाअभियान से टीकाकरण को मिलेगी गति: सीएम योगी

प्रदेश में 21 जून से कोविड टीकाकरण का नया चरण शुरू किया जा रहा है। प्रधानमंत्री द्वारा 18 वर्ष की आयु से अधिक के सभी नागरिकों के लिए आज से राज्य सरकारों को निःशुल्क टीका उपलब्ध कराया जाएगा। ऐसे में पीएम के इस निर्णय पर सीएम योगी ने कहा कि पीएम के निशुल्क टीकाकरण महाअभियान से प्रदेश में टीकाकरण को गति मिलेगी। सीएम ने आला अधिकारियों को हर दिन 06 लाख से ज्यादा लोगों को टीका-कवर देने के लक्ष्य के साथ तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। वहीं वैक्सीनेशन सेंटर और वैक्सीनेटर की संख्या को बढ़ाने के निर्देश देते हुए 1 जुलाई से हर दिन 10 से 12 लाख लोगों को वैक्सीनेट किए जाने का आदेश दिया हैं।

Also Read: कोरोना की दूसरी लहर में भी महिलाओं के लिए योगी सरकार की योजनाएं बनी ढाल

वैक्सीन लगवाने के लिए घर-घर भेजी जाएंगी बुलावा पर्ची, क्विक रिस्पॉन्स टीम रहेंगी एक्टिव

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण (Corona Vaccination) अभियान को अब और भी रफ्तार मिलेगी। प्रदेश में घर-घर जाकर टीमें लोगों को वैक्सीन लगाएंगी और इसके लिए लोगों को बुलावा पर्ची भेजी जाएगी। इस बुलावा पर्ची पर टीकाकरण का स्थान और तारीख लिखी होगी। क्लस्टर में वैक्सिनेशन टीम के पहुंचने से पहले कल्सटर के लिए बनाई गई कल्सटर मोबिलाइजेशन टीम कम से कम तीन दिनों लोगों में कोरोना टीके से जुड़ी भ्रांतियों को दूर कर उनको जानकारी देने और टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित करेंगी।

इसके अलावा जन जागरूकता के लिए बनी टीम में प्रधान, शिक्षक, आशा व आंगनबाड़ी वर्कर आदि शामिल हैं। प्रत्येक ब्लाक के गांवों को कई क्षेत्रों (कलस्टर) में बांटा जाएगा। कल्सटर में टीकाकरण के दौरान किसी भी तरह की प्रतिकूल घटना के प्रबंधन के लिए दो क्विक रिस्पॉन्स टीमों का गठन किया गया है। जो सभी कल्सटर में एक्टिव रहेंगी।

Also Read: चेन स्नैचिंग पर हो सकती है 14 साल तक जेल, जानिए सिफारिश की ये धाराएं

योगी सरकार ने प्रदेश में बढ़ाई वैक्सिनेशन सेंटर की संख्या

निशुल्क टीकाकरण अभियान के तहत योगी सरकार ने सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करते हुए निर्धारित टीकाकरण लक्ष्य को हासिल करने की पूरी तैयारी कर ली है। प्रदेश में वैक्सिनेशन सेंटर और वैक्सिनेटर की संख्या में इजाफा किया गया है। छह हजार वैक्सिनेशन सेंटर की संख्या को बढ़ाते हुए इसको दस हजार किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश में 12 हजार नए नर्सिंग स्टाफ को टीकाकरण अभियान से जोड़ा जाएगा जो लोगों का टीकाकरण करेंगी। सीएम योगी ने प्रदेश में नर्सिंग अंतिम वर्ष के प्रशिक्षुओं को वैक्सीनेटर के रूप में तैयार करने के आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

शहरी क्षेत्रों में हाईब्रिड मॉडल का प्रयोग, वैक्सिनेशन केंद्र पर रजिस्ट्रेशन कराने के लिए किया जाएगा प्रेरित

प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में (UP News in Hindi) हाईब्रिड मॉडल का प्रयोग किया जाएगा। इसके साथ ही वैक्सिनेशन केंद्र पर रजिस्ट्रेशन करवाकर टीकाकरण कराने के लिए लोगों को प्रेरित किया जाएगा। मालिन बस्तियों में कलस्टर अप्रोच से टीकाकरण किया जाएगा। इसके साथ ही योगी सरकार कार्यस्थल पर और घर के निकट टीकाकरण कराने पर जोर देगी।

Also Read: योगी सरकार ने बच्चों के लिए शुरू की नई पहल, बाल सेवा योजना का मिलेगा लाभ…

यूपी में कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता अब तीन गुना

प्रदेश में योगी सरकार ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccination) के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता को बढ़ाने पर विशेष जोर दिया जिसका परिणाम है कि आज प्रदेश में कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज की क्षमता अब तीन गुना हो गई है। अभी यहां 90 हजार लीटर कोल्ड स्टोरेज क्षमता है, जिसे बढ़ाकर सवा दो लाख लीटर किया गया है। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने दूसरे प्रदेशों के मुकाबले सबसे पहले कोरोना वैक्सीन के लिए कोल्ड स्टोरेज पर काम किया। साल 2020 में 12 दिसंबर से पहले ही कोरोना के टीके को रखने और लगाने की व्यवस्था कर ली थी।

युवाओं के टीकाकरण में आगे है यूपी

प्रदेश में अब तक दो करोड़ 56 लाख से अधिक वैक्सीन डोज (Corona Vaccination) दी जा चुकी है। 40 लाख 23 हजार से अधिक लोगों ने वैक्सीन के दोनों डोज प्राप्त कर ली है। 18-44 आयु वर्ग के युवाओं को 56 लाख 81 हजार 42 टीका लगाया जा चुका है, इनमें भी 01 लाख 47 हजार युवाओं ने वैक्सीन की दोनों डोज ले ली है।

Read More Articles on UP News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here