दूसरी लहर के बाद तीसरी लहर से लड़ने को तैयार है योगी सरकार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना की दूसरी लहर को क़ाबू कर लिया है। इसके लिए योगी सरकार को डब्लूएचओ व नीति आयोग ने सराहा है।

0
161
Film City in UP
UP में December तक शुरू हो जाएगा Film City का निर्माण, जानिए क्या होगा खास

Uttar Pradesh: ग्राउंड ज़ीरो पर उतर कर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने कोरोना की दूसरी लहर को क़ाबू कर लिया है। इसके लिए योगी सरकार को डब्लूएचओ व नीति आयोग ने सराहा है। कोरोना वायरस की थर्ड वेव से बच्चों में ज्यादा संक्रमण की आशंका है । इसके बाबत योगी आदित्यनाथ अपने दौरे के दौरान अधिकारियों को तैयारी का निर्देश दे चुके है। वाराणसी में इसके लिए अस्पतालों रह पीकू ,नीकू और ऑक्सीजन युक्त बेड बनाए जा रहे हैं, साथ ही चिकित्सकीय उपकरण भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

Also Read सीएम योगी ने एंटीबॉडी की जांच की रिपोर्ट के लिए दिए निर्देश

योगी सरकार कोरोना की दूसरी लहर को मात देने के बाद अब तीसरी लहर से मुकाबले के लिए डट कर खड़ी है। तीसरी लहर में बच्चों के अधिक संक्रमित होने की आशंका है। बच्चों को लेकर सरकार काफी संवेदनशील है। वारवेव मंडल के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने जानकारी दी कि थर्ड वेव में बच्चो के संक्रमित होने की रिपोर्ट पर सरकार के निर्देश पर तैयारी की जा रही है।

वाराणसी के प्रमुख सरकारी अस्पतालों जिसमें बीएचयू एमसीएच विंग , जिला महिला चिकित्सालय एमसीएच विंग ,दीनदयाल अस्पताल एमसीएच विंग, बीएचयू सुपर स्पेशियलिटी, होमी भाभा कैंसर हॉस्पिटल, बरेका हॉस्पिटल , ईएसआईसी , लाल बहादुर शास्त्री रामनगर , पंडित राजन मिश्र डीआरडीओ हॉस्पिटल है । इसके अलावा प्राइवेट बच्चों के अस्पतालों को भी तैयार रहने का निर्देश दिया गया है ।

Also Read सीएम की विशेष योजना करेगी प्रदेश के बच्चों का उद्धार

PICU (पीडियाट्रिक इंटेंसिव केयर यूनिट) , NICU (न्यूनेटल इंटेंसिव केयर यूनिट) और ऑक्सीजन युक्त करीब 800 से अधिक बेड की सूची बनकर तैयार है। इसके अलावा ख़ास चिकित्सीय उपकरण की उपलब्धता भी सुनिश्चित किया जा रहा है। जिसमे वेंटीलेटर ,एचएफएनसी ,सी -पैप ,बाई -पैप जैसे जीवन रक्षक उपकरणों है। कितने उपकरण की जरुरत पड़ेगी ,कितने उपकरण मौज़ूदा समय में है व कितने उपकाण थर्ड वेव के वार में चाहिए इसकी भी तैयारी हो चुकी है। 

Read More Articles on UP News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. YouTube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here