धर्मांतरण अध्यादेश मामले पर अब 2 फरवरी को होगी सुनवाई…

0
192
UP Conversion ordinance
UP: धर्मांतरण अध्यादेश मामले पर अब 2 फरवरी को होगी सुनवाई...

Allahabad: यूपी सरकार द्वारा धर्मांतरण (UP Conversion ordinance) से जुड़े अध्यादेश के विरोध में दायर याचिकाओं पर आज इलाहबाद (Allahabad) में होने वाली सुनवाई टल गई है। अब 2 फरवरी को अदालत इस मामले (UP Conversion ordinance) को सुनेगी। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में सरकार की ओर से याचिका दी गई है जिसमें सभी मामलों को सर्वोच्च अदालत में सुने जाने की अपील हुई है। इसी के कारण हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई टाल दिया है और अब मामले की सुनवाई 2 फरवरी को होगी। बता दें कि इस मामले में पहले प्रदेश सरकार की ओर से कहा गया था कि इस मुद्दे पर SC में सुनवाई हो रही है।

ये भी पढ़े: CM Yogi से मिले सोनू, राम मंदिर के लिए करेंगे योगदान

बता दें कि इस मामले में पहले सुवनवाई 18 जनवरी को हुई थी। तब हाईकोर्ट ने याचिका खारिज करने से इनकार कर दिया था, और सुनवाई के लिए 25 जनवरी का समय दिया था। राज्य सरकार ने कहा था कि मामले (UP Conversion ordinance) को यहां से हटाकर SC में ही चलने दिया जाएं, अलग-अलग सुनवाई होने के कारण काफी दिक्क्तें आ रही हैं। हालांकि कोर्ट ने साफ कर दिया था कि SC ने मामले पर किसी तरह का स्टे नहीं दिया है, ऐसे में हाईकोर्ट में सुनवाई होती रहेगी।

ये भी पढ़े: CM योगी ने नोएडा वासिय़ों को दी ये बड़ी सौगात, जानें पूरी खबर…

दरअसल, याचिकाकर्ता द्वारा अपील की गई है कि यूपी सरकार द्वारा लव जिहाद से जुड़ा जो अध्यादेश है, वह गैर-कानूनी है. ऐसे में अदालत को इस कानून को रद्द करना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने लव जिहाद कानूनों के खिलाफ याचिकाओं को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) से सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ट्रांसफर करने की यूपी सरकार की याचिका पर सुनवाई से इनकार कर दिया है। इस मामले में CJI Sharad Arvind Bobde ने कहा कि हम हाईकोर्ट को नहीं रोकेंगे। सुप्रीम कोर्ट को हाईकोर्ट के फैसले का फायदा मिलना चाहिए।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here