फडणवीस के CM पद की शपथ लेने के बाद शिवसेना का दावा, अजित पवार के पास हैं सिर्फ दो MLA

महाराष्ट्र की राजनीति में अचानक बड़ा उलटफेर हुआ है। इसी के साथ ही आज यानी कि शनिवार को बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस एक बार फिर मुख्यमंत्री बन गए। वहीं शिवसेना नेता अजित पवार डिप्टी सीएम बने।

0
650
Shiv Sena Press Conference

महाराष्ट्र की राजनीति में अचानक बड़ा उलटफेर हुआ है। इसी के साथ ही आज यानी कि शनिवार को बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस एक बार फिर मुख्यमंत्री बन गए। वहीं शिवसेना नेता अजित पवार डिप्टी सीएम बने।

दरअसल, देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री पद और अजीत पवार के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद राज्य में लगा राष्ट्रपति शासन भी खत्म हो गया है। एनसीपी और शिवसेना ने एक साथ कॉन्फ्रेंस कर अब भी सरकार बनाने का दावा किया है।

शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर दावा किया हैा कि महाराष्ट्र में सरकार शिवसेना की ही बनेगी। राउत ने कहा, अजित पवार अकेले पड़ जाएंगे उन्होंने जिन विधायकों के समर्थन की बात कही है वे भी हमारे ही साथ हैं।

वहीं कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा, हमारे सारे विधायक साथ हैं। इसके अलवा कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना तीनों दल साथ-साथ हैं। अहमद पटेल ने कहा कि बीजेपी को विश्वास मत में हराने के लिए तीनों दल साथ हैं और हम हराएंगे।

अहमद पटेल ने उन आरोपों को खारीज कर दिया कि सरकार बनाने में देरी हुई। पटेल ने कहा कि प्रक्रिया में जो समय लगता है, वह लगा। तीनों दल मिलकर बीजेपी के विश्वास प्रस्ताव को हराएंगे।

एनसीपी और शिवसेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस में नहीं जाने के मुद्दे पर पटेल ने कहा कि हमारी बैठक पहले से तय थी, इसलिए उस पीसी में हम नहीं गए। अहमद पटेल बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा आज जो हुआ, उससे पता चल रहा है कि संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

महाराष्ट्र के घटनाक्रम पर कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। इस प्रेस कॉन्फेंस में पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और मल्लिकार्जुन जैसे दिग्गज नेता मौजूद रहे। अहमद पटेल ने कहा कि आज का दिन इतिहास में काली स्याही से लिखा जाएगा।

संविधान की अवहेलना की गई बैंड बाजा और बारात के बिना ही सीएम और डिप्टी सीएम ने शपथ ली। उन्होंने कहा, कुछ गलत जरूर हुआ है। सबकुछ छिपाकर किया गया। बेशर्मी की इंतेहा को पार किया गया। सुबह हुए कांड पर आलोचना के लिए शब्द नहीं हैं।

संजय राउत ने कहा, हम धनंजय मुंडे से संपर्क में हैं। इस बात की संभावना है कि अजित पवार भी हमारे साथ वापस आ जाएं। अजित को ब्लैकमेल किया गया है। हम जल्द ही सामना न्यूजपेपर में इस बारे में खुलासा करेंगे कि इसके पीछे कौन है।

शिवसेना नेता ने कहा, 8 विधायक अजित पवार के साथ राज भवन गए थे। इन 8 में से 5 वापस आ गए हैं। विधायकों को झूठ बोलकर कार में ले जाया गया। जो एक तरह से अपहरण है। अगर हिम्मत है तो वो विधानसभा में बहुमत साबित करके दिखाएं।

शरद पवार ने कहा, सरकार हम बनाएंगे इसमें कोई दो राय नहीं है। हमारे पास पर्याप्त संख्या है, इसके साथ ही शरद पवार ने सुप्रिया सुले को लेकर कहा उनकी दिलचस्पी केंद्र की राजनीति में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here