Rajasthan Political Crisis: जल्द थमेगा राजस्थान का सियासी तूफान ?

यह ताजा घटनाक्रम राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाए जाने के पांच दिन पहले हुआ है. जहां अशोक गहलोत अपना बहुमत साबित करने का दावा कर रहे हैं.

0
312
Rajasthan Political Crisis
Rajasthan Political Crisis: जल्द थमेगा राजस्थान का सियासी तूफान ?

Delhi: राजस्थान (Rajasthan) में लगातार सियासी उठापटक जारी है और राज्य सरकार (Rajasthan Political Crisis) पर खतरें के बादल छाये हुए है. इस सबके बीच सूत्रों से जानकारी मिली है कि सचिन पायलट (Sachin Pilot) और अन्य बागी विधायक कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के साथ मुलाकात की. कहा जा रहा है कि इस मुलाकात में उन कड़वाहटों को मिटाने की कोशिश की हुई जिसकी वजह से गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे थे. कांग्रेस के सूत्रों के अनुसार पायलट और प्रियंका गांधी के बीच बैठक में पायलट और गहलोत के बीच सहमति बन गई है.

देश में कोरोना केस 22 लाख के पार, हर दिन आ रहे 60 हजार से ज्यादा नए मामले

आपको बता दें कि पिछले दिनों एनसीआर में किसी स्थल पर प्रियंका गांधी और सचिन पायलट के बीच मुलाकात हुई थी. जिसके बाद यह तय हो पाया है. प्रियंका और सचिन की मुलाकात के बाद कई स्तरों पर बातचीत भी हो चुकी है. यह ताजा घटनाक्रम राजस्थान विधानसभा सत्र बुलाए जाने के पांच दिन पहले हुआ है. जहां अशोक गहलोत अपना बहुमत साबित करने का दावा कर रहे हैं. उन्होंने अपने विरोधियों पर बीजेपी के साथ मिलकर सरकार गिराने (Rajasthan Political Crisis) के प्रयास का आरोप लगाया था.

Janmashtami 2020: इस दिन मनाया जाएगा जन्माष्टमी का पर्व, जानें पूजा का शुभ मुहूर्त

वहीं पायलट खेमा का रुख कांग्रेस के दावों से बिलकुल अलग है. कांग्रेस से मिली जानकारी के उलट पायलट खेमा अपनी पुरानी बात पर अड़ा हुआ नजर आ रहा है. कांग्रेस इन सभी दावों को खारिज करते हुए पायलट खेमे का कहना है कि हमारा मुख्य मुद्दा अभी भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पद से हटाना ही है. आपको बता दें कि जब सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच विवाह शुरु हुआ तो ऐसी अटकलें लगाई जा रही थी कि सचिन पायलट बीजेपी के साथ मिलकर राजस्थान सरकार गिरा देगें. लेकिन पायलट ने ऐसी सभी खबरोें को विराम दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here